अमेरिका को उबालने वाले वो 8 मिनट

0
239

नई दिल्ली : मिनीसोटा प्रांत के मिनियापोलिस शहर में 25 मई की शाम जॉर्ज फ्लॉएड सिगरेट खरीदने जाते हैं. अफ्रीकी मूल के फ्लॉएड 20 डॉलर का नोट देकर सिगरेट का बंडल लेते हैं. स्टोर के एक किशोर कर्मचारी को शक होता है कि 20 डॉलर का नोट नकली हो सकता है. कर्मचारी पुलिस को सूचित करता है. प्रशासन द्वारा जारी की गई टेलिफोनिक ट्रांस्क्रिप्ट के मुताबिक, स्टोर ने फ्लॉएड से सिगरेट का बंडल वापस को करने को कहा. लेकिन “उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया.”

कर्मचारी ने पुलिस को फोन पर बताया कि शख्स “शराब के नशे” में लग रहा है और उसका “खुद पर नियंत्रण भी नहीं है.” इस टेलिफोन कॉल के थोड़ी ही देर बाद वहां दो श्वेत पुलिस अधिकारी पहुंचते हैं. पुलिस को सड़क पर ही पार्क एक कार दिखती है जिसमें फ्लॉएड दो लोगों के साथ बैठे हुए हैं. पुलिस अधिकारी थॉमस लेन कार के पास पहुंचते हैं और अपनी पिस्टल तानते हुए फ्लॉएड से हाथ उठाने के लिए कहते हैं. थॉमस लेन ने सर्विस पिस्टल क्यों निकाली, इसका जवाब अभी तक नहीं मिला है.

यह आठ-मंजिला संग्रहालय अमेरिकी इतिहास के कुछ बेहद दुखद अध्यायों को शोकेस करती है. कांसे के रंग की बाहरी दीवारें राजधानी वॉशिंगटन डीसी में “अमेरिका का फ्रंट लॉन” कहे जाने वाले इलाके की बाकी सफेद संगमरमर की इमारतों में अलग से नजर आती है. अभियोजन पक्ष के मुताबिक पुलिस अधिकारी लेन ने फ्लॉएड को कार से बाहर निकाला. हथकड़ी लगने के बाद फ्लॉएड को बताया गया कि उन्हें नकली मुद्रा इस्तेमाल करने के आरोप में गिरफ्तार किया जा रहा है.

अधिकारी फ्लॉएड को पुलिस की गाड़ी में डालने की कोशिश करने लगे. इसी दौरान फ्लॉएड गिर गए. रिपोर्टों के मुताबिक फ्लॉएड ने पुलिस को बताया कि वह क्लॉस्ट्रोफोबिक हैं. क्लॉस्ट्रोफोबिक यानि एक ऐसा व्यक्ति जिसे तंगहाल जगहों से डर लगता हो. इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने उन्हें फुटपाथ पर बैठा दिया. तभी मौके पर शॉविन नाम के एक और पुलिस अधिकारी पर पहुँचे. उन्होंने दूसरी तरफ से फ्लॉएड को जबरन कार में ठूंसने को कोशिश की. फ्लॉएड फिर गिरे लेकिन इस बार शॉविन ने अपना बायां घुटना फ्लॉएड की गर्दन पर रख दिया. दो और अधिकारी ज़मीन पर गिरे फ्लाएड को दबाते रहे. फ्लॉएड की गर्दन 8 मिनट 46 सेकेंड तक पुलिस के घुटने के नीचे दबी रही. फ्लॉएड शुरुआत से कहने लगे कि, “आई कान्ट ब्रीद (मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं).” ये उनके आखिरी शब्द थे

गर्दन दबने के करीब छह मिनट बाद फ्लॉएड के शरीर ने कोई भी हरकत करना बंद कर दिया. इसके बाद पुलिस ने 46 साल के फ्लॉएड की नब्ज टटोलनी चाहिए लेकिन वह गायब थी. इस दौरान भी फ्लॉएड की गर्दन दबी हुई थी. नब्ज न मिलने के लिए बाद जब पुलिस अधिकारियों ने फ्लॉएड को छोड़ा तो वह सड़क पर निढाल पड़े थे. कुछ देर बाद एंबुलेंस उन्हें अस्पताल लेकर गई, जहां फ्लॉएड को मृत घोषित कर दिया गया. गर्दन दबाने वाले पुलिस अधिकारी पर अब थर्ड डिग्री मर्डर की धारा लगाई गई है. अमेरिका में नस्लीय भेदभाव के खिलाफ बड़े प्रदर्शन हो रहे हैं. जगह जगह एक ही वाक्य गूंज रहा है, “आई कान्ट ब्रीद.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here