जारी है भारत – चीन सीमा पर तनाव , दोनों देश बढ़ा रहे सीमा पर सैन्य बल

0
19

नई दिल्ली : एक तरफ भारत समेत दुनिया के ज्यादातर देश कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं और ऐसे में चीन सीमा पर आंख दिखा रहा है। पिछले कुछ दिनों से लगातार भारत चीन सीमा पर चीनी सैनिक तनाव पैदा करने में लगे हैं। इसका नतीजा यह है कि एक बार फिर से दोनों देशों के बीच तनाव पैदा होता दिखाई दे रहा है। पिछले दिनों लद्दाख और उत्तरी सिक्किम में भारत और चीन के सैनिकों के आमने-सामने आ जाने के बाद सीमा पर तनातनी बढ़ती जा रही है। भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों की ओर से सैनिकों की संख्या बढ़ा दी गई है। यह जानकारी मंगलवार को उच्च पदस्थ सूत्रों के हवाले से मिली है।

दरअसल, पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारतीय सेना द्वारा अपनी ताकत मजबूत करने के लिए सड़क बनाए जाने के चलते ही चीन बौखलाया हुआ है। चीन इस फिराक में है कि भारत इस सड़क को न बनाए। इसीलिए उसके सैनिक पांच मई को भारतीय क्षेत्र में घुस आए थे। तब भारतीय सेना ने उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया था। इस दौरान हाथापाई भी हुई। अपनी इसी साजिश के चलते चीन के हेलीकॉप्टर भारतीय क्षेत्र में घुस आए थे। चीन की इन हरकतों के बाद भारतीय सेना ने अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा दी है। इससे चीन परेशान हो उठा है।

भारतीय सैनिकों द्वारा पैंगोंग त्सो झील के उत्तर में सड़क बनाने के काम में अड़ंगा डालने की कोशिश कर रहे चीन के सैनिकों ने लद्दाख के गालवां घाटी के पास अपने टेंट लगा दिए हैं। सैन्य सूत्रों के अनुसार चीन ने डैमचौक, चुमार और दौलत बेग ओल्डी जैसे इलाकों के पास अपने सैनिकों की संख्या बढ़ाई है। जवाब मिलने के बाद से चीन चुपभारतीय सेना के जवाब देने के बाद चीन शांत है। यह भी कहा जा रहा है कि हालात सामान्य हैं। वहीं वास्तविक नियंत्रण रेखा पर स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए फिलहाल भारतीय सड़क प्रोजेक्ट को रोके जाने की सूचना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here