महाराष्ट्र में टली शरद पवार और सोनिया गांधी की मुलाकात , अब सोमवार को मिलेंगे दोनों नेता

0
103

नई दिल्ली/मुंबई: महाराष्ट्र में सरकार गठन पर रस्साकसी जारी है. शिवसेना और बीजेपी की राहें जुदा होने के बाद कांग्रेस,एनसीपी और शिवसेना के साथ आने की चर्चा थी, लेकिन अभी तक तीनों दलों के बीच सहमति नहीं बन पाई है. खबर है कि महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ संभावित गठबंधन पर चर्चा के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार के बीच आज (रविवार को) होने वाली बैठक टल गई है. अब यह बैठक सोमवार को होगी. सूत्रों ने यह जानकारी दी है. कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, बैठक सोनिया गांधी के आवास पर होगी, जिसमें महाराष्ट्र में मंगलवार को राष्ट्रपति शासन लागू किए जाने पर केंद्रित वार्ता होने की संभावना है.

पार्टी सूत्रों ने कहा कि चुनाव पूर्व गठबंधन साझेदार कांग्रेस और राकांपा ने शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने के लिए न्यूनतम साझा कार्यक्रम तैयार कर लिया है. सूत्रों ने संकेत दिया कि बैठक के दौरान तीन पार्टियों के बीच विभागों के बंटवारे और सरकार के लिए फॉर्मूले पर चर्चा होगी. कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि सबसे पुरानी पार्टी चाहती है कि शिवसेना अपनी कट्टर हिंदुत्ववादी विचारधारा को ढक ले और कुछ मुद्दों पर धर्मनिरपेक्ष रुख अपनाए. उन्होंने यह भी कहा कि राकांपा चाहती है कि कांग्रेस इस सरकार का हिस्सा बने.

आपको बता दें कि आज शाम 4 बजे पुणे में एनसीपी नेताओं की बैठक भी होनी है. इस बैठक में 21 नेता शामिल होंगे और बैठक की अध्यक्षता शरद पवार करेंगे. NCP नेता नवाब मलिक ने बताया है कि इस बैठक में महाराष्ट्र के मौजूदा हालात पर पार्टी की रणनीति पर चर्चा होगी. इस बैठक के बाद पवार दिल्ली रवाना होंगे. NCP नेता नवाब मलिक ने को ये भी बताया है कि मंगलवार यानी 19 नवंबर को कांग्रेस और एनसीपी नेताओं के बीच बैठक होनी है. जिसमें इस बात पर चर्चा होगी कि सरकार गठन में कांग्रेस शामिल होगी या नहीं.