PMC बैंक मामले पर 30 अक्टूबर को फैसला सुनाएगा RBI, खाताधारकों के प्रतिनिधियों ने की मुलाकात

0
78

नई दिल्लीः पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक यानी पीएमसी बैंक को लेकर बड़ी खबर आई है. आरबीआई के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर ने पीएमसी मामले पर 30 अक्टूबर तक का समय मांगा है. 30 अक्टूबर को आरबीआई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताएगा कि पीएमसी बैंक पर उसने क्या फैसला लिया है. आरबीआई की पीएमसी बैंक के मामले को लेकर 25 अक्टूबर को मीटिंग होगी जिसमें फैसला लिया जाएगा जिसके बारे में 30 अक्टूबर को जानकारी दी जाएगी. 25 अक्टूबर को जो बैठक होगी वो आरबीआई के बीच होगी और ये खताधारकों के साथ नहीं होगी.

आज आरबीआई की जो बैठक पीएमसी बैंक के खाताधारकों के डेलीगेशन के साथ हुई है उसमें आरबीआई ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि आपको पैसा सुरक्षित है. 30 अक्टूबर को जो प्रेस कॉन्फ्रेंस होगी उसमें आरबीआई के फैसले के बारे में जानकारी दे दी जाएगी.

बता दें कि आज सुबह 10 बजे से पीएमसी खाताधारक आज़ाद मैदान में विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. इसके बाद पीएमसी खाताधारकों के 6 लोगों के प्रतिनिधि मंडल ने आरबीआई अधिकारियों के साथ बैठक की. इस बैठक में आरबीआई के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर से भी उनकी मुलाकात हुई. हालांकि बैठक में आरबीआई गवर्नर मौजूद नहीं थे क्योंकि आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास मुंबई से बाहर हैं. इस बैठक के खत्म होने के बाद आजाद मैदान में प्रदर्शन कर रहे लोग लौट गए.

पीएमसी बैंक के खाताधारकों के प्रतिनिधि मंडल के साथ आरबीआई की बातचीत के बाद प्रदर्शन में शामिल पीएमसी खाताधारक और कांग्रेस नेता चरण सिंह सप्रा ने कहा कि सभी 16 हजार खाताधारकों ने दीवाली नही मनाने का फैसला लिया है और जिन 6 खाताधारकों की मौत हुई है उन्हें 25 लाख रुपये की मदद दी जाए, ऐसी मांग आरबीआई से रखी गई है. चरण सिंह सप्रा उन 6 लोगों के डेलिगेशन में भी थे जिन्होंने आज आरबीआई के अधिकारियों के साथ बातचीत की है.

हालांकि ये बात साफ कर दी गई है कि आज की मीटिंग में कोई भी बात लिखित तरीके से नहीं दी गई है. अगर उनकी मांगें नहीं मानी गई तो पीएमसी खाताधारक फिर आंदोलन करेंगे और इसके लिए आज़ाद मैदान में ज्यादा संख्या में जुटने की अपील की गई है.

क्या है पीएमसी बैंक मामला
आपको बता दें कि 24 सितंबर को आरबीआई ने पीएमसी बैंक के लेनदेन पर रोक लगा दी थी. शुरुआत में आरबीआई ने छह महीने की अवधि में प्रति खाता निकासी सीमा 1000 रुपये तय की थी जिसे बाद में बढ़ाकर 10,000 रुपये और फिर 25,000 रुपये किया गया था. आरबीआई ने हाल ही में में फंसे पीएमसी बैंक के ग्राहकों के लिये निकासी सीमा 25,000 रुपये से बढ़ाकर 40,000 रुपये प्रति खाताधारक भी कर दी है. यह तीसरा मौका था जब आरबीआई ने ग्राहकों को राहत देते हुये निकासी सीमा बढ़ाई. रुपये निकाले जाने की सीमा तय किए जाने के बाद से ही पीएमसी खाताधारक प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्हें यह भी डर है कि कहीं बैंक में जमा पैसा डूब नहीं जाए.