बिहार के अररिया में हुआ एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म, पुलिस ने दिखाया लापरवाही भरा रवैया

0
274

बिहार : देश में वैसे ही कोरोना जैसी महामारी लोगों की जान की दुश्मन बनी हुई है और ऐसे हालात में भी हैवानों की आपराधिक मानसिकता खत्म नहीं हुई है। इतना ही नहीं, अपराधियों के साथ पुलिस का भी लापरवाही भरा रवैया जारी है। इसी तरह का एक मामला बिहार में सामने आया है जहां एक युवती से पहले तो दुष्कर्म हुआ और जब पुलिस की बारी आई तो उसने मेडिकल के बाद युवती को उसके हाल पर छोड़ दिया। नतीजा यह निकला की दुष्कर्म पीड़िता इस युवती को 40 किमी पैदल चलकर अपने घर लौटने को मजबूर होना पड़ा।

मामला बिहार के अररिया का है जहां पुलिस की लापरवाही एक बार फिर उजागर हुई है। महिला पुलिस एक दुष्कर्म पीड़िता को जांच के लिए फारबिसगंज ले गई और वहां ले जाकर उसे छोड़ दिया। पीड़िता 40 किलोमीटर पैदल चलकर अपने घर पहुंची। इस मामले को राज्य महिला आयोग ने गंभीरता से लिया है। महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणी मिश्रा ने एसपी को पत्र लिखकर दोषी पुलिसकर्मी के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

मालूम हो कि 14 मई को घर में 14 वर्षीया नाबालिग के साथ फिरोज अंसारी ने दुष्कर्म किया था। आरोपित को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। अररिया शहर की एक नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता को महिला पुलिस मेडिकल जांच कराने फारबिसगंज ले गई थी। जांच में देर होती देख पुलिसकर्मी पीड़िता को वहीं छोड़ कर चली आई। लॉकडाउन रहने के चलते पीड़िता 40 किलोमीटर पैदल चलकर अररिया पहुंची। इसके बाद उसने राज्य महिला आयोग में शिकायत दर्ज कराई।

महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणी मिश्रा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी धूरत सायली को पत्र भेजकर लापरवाह पुलिसकर्मी के विरुद्ध विधिसम्मत कार्रवाई करने व दुष्कर्म के आरोपित को शीघ्र गिरफ्तार करते हुए 15 दिनों के अंदर प्रतिवेदन देने की मांग की है। इस मामले में अररिया डीएसपी पुष्कर कुमार का कहना है कि, जांच पूरी कर ली गई है। जल्द ही एसपी को इस संबंध में रिपोर्ट भेजी जाएगी। एसपी से बात करने की कोशिश की गई, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here