पुलवामा हमले के सवाल पर फंसे राहुल गांधी

0
51

नई दिल्ली। पुलवामा हमले से किसे सबसे ज्यादा फायदा? पुलवामा आंतकी हमले की पहली बरसी पर यह सवाल पूछने वाले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर बीजेपी ने जोरदार पलटवार किया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है कि गांधी परिवार ‘फायदे’ से आगे कुछ सोच नहीं सकता तो जीवीएल नरसिम्हा ने राहुल को लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकवादी संगठनों के प्रति सहानुभूति रखने वाला बताया है।
आज पुलवामा आतंकी हमले की पहली बरसी है। पिछले साल 14 फरवरी को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर फिदायीन हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। राहुल गांधी ने शहीदों को याद करते हुए तीन सवाल पूछे हैं। राहुल ने ट्वीट किया, ‘आज जब हम पुलवामा हमले के 40 सीआरपीएफ शहीदों को याद कर रहे हैं, आइए पूछें….1. हमले से किसे सबसे ज्यादा फायदा हुआ? हमले की जांच में क्या निकला? सुरक्षा में चूक के लिए बीजेपी सरकार में किसे जिम्मेदार ठहराया गया, जिसकी वजह से हमला हो पाया।’

बीजेपी का पलटवार
बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा ने ट्वीट किया, ‘जब राष्ट्र पुलवामा हमले के शहीदों को याद कर रहा है। लश्कर और जैश-ए-मोहम्मद से सहानुभूति के लिए जाने जाने वाले राहुल गांधी ने ना सिर्फ सरकार पर बल्कि सुरक्षा बलों पर भी निशाना साधा। राहुल कभी भी वास्तविक दोषी पाकिस्तान से सवाल नहीं करेंगे। शर्म करो राहुल।’ बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट किया, ‘वह एक नीचतापूर्ण हमला था और यह एक नीचतापूर्ण बयान है। किसे सबसे ज्यादा फायदा हुआ? मिस्टर गांधी क्या आप फायदे से आगे सोच सकते हैं? बेशक नहीं…यह कथित ‘गांधी’ परिवार फायदे से ज्यादा कभी नहीं सोच सकता केवल भौतिकवादी ढंग से भ्रष्ट नहीं, उनकी आत्मा भी भ्रष्ट है।’

बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट किया, ‘…हमला होने दिया? क्या मिस्टर गांधी आप यह कह रहे हैं कि पाकिस्तान पुलवामा हमले के लिए जिम्मेदार नहीं है? आप उन्हें क्लीन चिट देने पर क्यों जोर दे रहे हैं? क्या आपने नहीं देखा कि भारतीय सुरक्षाबलों ने बालाकोट में आतंकवादियों को मारा? क्या आप दुखी हैं कि भारत ने दृढ़ कार्रवाई की।’