चंद्रयान-2 में बोले पीएम मोदी- सब कुछ योजना के मुताबिक नहीं हुआ, फिर भी यह मिशन सफल था

0
64

नई दिल्ली। कोलकाता में आज पांचवें इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल का आगाज हुआ. फेस्टिवल का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी की उन्नति के बिना कोई देश प्रगति नहीं कर सकता है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने दुनिया को चोटी के वैज्ञानिक दिए हैं.

पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल का 5वां एडिशन ऐसे स्थान पर हो रहा है, जिसने ज्ञान-विज्ञान के हर क्षेत्र में मानवता की सेवा करने वाली महान विभूतियों को पैदा किया है. उन्होंने कहा, ये फेस्टिवल ऐसे समय में हो रहा है, जब 7 नवंबर को सीवी रमन और 30 नवंबर को जगदीश चंद्र बोस की जन्मजयंती मनाई जाएगी.

पीएम ने कहा, देश में साइंस और टेक्नोलॉजी का इकोसिस्टम बहुत मजबूत होना चाहिए. एक ऐसा इकोसिस्टम जो प्रभावी भी हो और प्रेरक भी हो. हम इसी दिशा में आगे बढ़ रहे हैं. मोदी ने कहा, मैं आपको हाल ही का एक उदाहरण देता हूं. हमारे वैज्ञानिकों ने चंद्रयान 2 पर बहुत मेहनत की थी और इससे बहुत उम्मीदें पैदा हुई थीं. सब कुछ योजना के अनुसार नहीं हुआ, फिर भी यह मिशन सफल था.

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें सोचना होगा कि साइंस का उपयोग कैसे लोगों के जीवन को सुगम बनाने में किया जा सकता है.इसलिए साइंस फॉर सोसाइटी का बहुत महत्व है. जब सभी वैज्ञानिक, सभी देशवासी इस सोच के साथ आगे बढ़ेंगे, तो देश का भी लाभ होगा.