पी चिदंबरम को झटका, दिल्ली हाई कोर्ट से मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट पर जमानत अर्जी खारिज

0
46

नई दिल्ली। आईएनएक्स मीडिया केस में पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम को झटका लगा है. पी चिदंबरम की स्वास्थ्य कारणों से मांगी गई जमानत अर्जी को हाई कोर्ट ने खारिज कर दिया. दरअसल, चिदंबरम ने प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत को चुनौती देते हुए अंतरिम जमानत के लिए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी.
पी चिदंबरम ने स्वास्थ्य के आधार पर जमानत मांगी थी, जिस पर गुरुवार को हाई कोर्ट ने मेडिकल बोर्ड का गठन किया था. आज मेडिकल बोर्ड ने हाई कोर्ट के सामने अपनी रिपोर्ट पेश की. रिपोर्ट के मुताबिक, चिदंबरम को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं है. इस पर कोर्ट ने कहा कि जेल में ही डॉक्टर चिदंबरम का रेगुलर चेकअप करें. साथ ही मिनरल वाटर पीने को दिया जाए, मच्छरों से बचाने के लिए उन्हें लोशन दिया जाए.

एडमिट करने की नहीं स्वच्छ वातावरण की जरूरत

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट के सामने मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट रखी, जिसमें कहा गया है कि पी चिदंबरम को स्वच्छ वातावरण देने की जरूरत है, एडमिट करने की जरूरत नहीं है. तुषार मेहता ने कहा कि उन्हें मिनरल वाटर दिया जाए, घर का बना खाना पहले से अलाऊ किया हुआ है. मच्छर से बचाव के लिए मच्छरदानी का इस्तेमाल किया जाएगा.

हाई कोर्ट ने नियमित स्वास्थ्य जांच का दिया आदेश

दिल्ली हाई कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि पी चिदंबरम की न्यायिक हिरासत में नियमित स्वास्थ्य की जांच हो. उनका ब्लड प्रेशर आदि चेक किया जाए. पी चिदंबरम का मच्छरों से बचाव किया जाए. जेल में जिस जगह उनको रखा जा रहा है वहां दो बार दिन में साफ सफाई की जाए.