पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अपील पर पश्चिम बंगाल पंहुचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लिया अम्फान तूफान से हुई तबाही का जायजा

0
169

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अपील को स्वीकार करते हुए आज प्रदेश का दौरा किया. वे आज सुबह कोलकाता पहुंचे और ममता बनर्जी के साथ अम्फान तूफान के कारण वहां हुई तबाही का जायजा लिया. कल तूफान के बारे में जानकारी देते हुए ममता बनर्जी ने कहा था कि ऐसी तबाही आज तक नहीं देखी थी पीएम मोदी आयें और हालात का जायजा लें. ममता बनर्जी ने एक तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती देते हुए यह कहा था कि वे बंगाल आयें और देखें कि यहां क्या हालात हैं, जिसके बाद पीएम मोदी कोलकाता पहुंचे.

गौरतलब है कि इससे पहले जब बंगाल में वर्ष 2019 में फोनी तूफान से तबाही हुई तो उस वक्त ममता बनर्जी ने पीएम मोदी के साथ बैठक और सहायता दोनों को ठुकरा दिया था. पीएम मोदी ने जब ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के साथ ममता बनर्जी को भी मीटिंग के लिए बुलाया था तो उन्होंने यह कहकर मीटिंग में शामिल होने से मना कर दिया था कि वे राहत कार्यों में व्यस्त हैं. इसके अतिरिक्त भी कई ऐसे मौके आये हैं, जब ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ खड़ी रहीं हैं.

सीएए और एनआरसी का मसला भी जब देश में गरमाया हुआ था तो ममता बनर्जी ने पीएम मोदी के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करना शुरू कर दिया था. उनका नारा छि: छि: मोदी भी उस दौरान बहुत चर्चा में रहा था. लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान भी जिस तरह से बंगाल में हिंसा हुई थी और ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री और गृहमंत्री अमित शाह पर दोषारोपण किया था, वह लोगों के स्मरण में ताजा है. चुनाव के वक्त तो ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को झूठा तक कहा था और यह भी कहा था कि अगर जरूरत पड़ी तो वे पीएम मोदी को जेल भी भेज सकती हैं.

कोलकाता के पुलिस कमिशनर राजीव कुमार पर सीबीआई ने जब सारधा घोटाला मामले में कार्रवाई की थी तो ममता बनर्जी सीबीआई और केंद्र सरकार का विरोध करते हुए धरना पर बैठ गयीं थीं. उस वक्त उन्होंने यह आरोप लगाया था कि पीएम मोदी और अमित शाह बदले की कार्रवाई कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here