बापू की हत्या की साजिश के मकसद को समझने की जरूरतः तुषार गांधी

0
231

नई दिल्ली। महात्मा गांधी के परपोते तुषार गांधी ने कहा है कि सावरकर महात्मा गांधी हत्याकांड में सबूतों के अभाव में बरी हो गए थे, कोर्ट ने उन्हें बरी नहीं किया था. कोर्ट ने बस यही कहा, कि पर्याप्त सबूतों के अभाव में महज शक के आधार पर दोषी नहीं ठहराया जा सकता. आज बापू के हत्यारों के भारत रत्न देने की बात हो रही है.
हिंदूवादी नेता विनायक दामोदर सावरकर को लेकर इन दिनों जमकर बवाल मचा हुआ है. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया था कि सावरकर को भारत रत्न से नवाजे जाने का प्रयास किया जाएगा.
सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की बात पर तुषार गांधी ने कहा कि यह समझना महत्वपूर्ण है, कि बापू के कत्ल के पीछे का मकसद क्या था और किस तरह की साजिश रची गई. आज बापू के हत्यारों के भारत रत्न देने की बात हो रही है.