आज दोपहर 2:15 बजे CM पद की शपथ लेंगे खट्टर, दुष्यंत चौटाला बनेंगे उप मुख्यमंत्री

0
80

चंडीगढ़: हरियाणा में किसकी सरकार बनेगी इसको लेकर तस्वीर अब पूरी तरह साफ है. एक बार फिर राज्य में भारतीय जनता पार्टी सरकार बनाने जा रही है. उसे दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी का समर्थन मिला है. आज सूबे के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर एक बार फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. वहीं दुष्यंत चौटाला प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री होंगे. आज दिवाली के दिन दोपहर 2.15 पर मनोहर लाल खट्टर मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. इसके साथ ही यह भी तय हो जाएगा कि कौन-कौन मंत्रिमंडल में शामिल होगा. कयासों की मानें तो अनिल विज और बनवारी लाल के अलावा कुछ नए चेहरे भी मंत्रिमंडल में शामिल किए जा सकते हैं.

खट्टर ने बताया सरकार बनाने का फॉर्मूला

खट्टर ने बताया कि 57 विधायकों, जिनमें बीजेपी के 40, JJP के 10 और सात निर्दलीय विधायक शामिल हैं, के समर्थन के साथ सरकार गठन के लिये राज्यपाल के समक्ष दावा पेश किया. हरियाणा की 90 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिये 46 सीटें होना जरूरी है. खट्टर ने बताया कि हरियाणा के राज्यपाल ने हमें रविवार को सरकार गठन का न्योता दिया है.

खट्टर ने कहा, “राज्यपाल ने हमारे दावे को स्वीकार कर हमें रविवार को सरकार बनाने का न्योता दिया है.” खट्टर ने कहा कि दुष्यंत चौटाला उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे. खट्टर ने बताया कि वह रविवार दोपहर सवा दो बजे राजभवन में शपथ लेंगे. उन्होंने कहा कि उनके साथ जो मंत्री शपथ लेंगे उनके नामों की जानकारी रविवार को दी जाएगी.

BJP ने हालांकि कहा है कि वह सरकार गठन के लिये विवादित नेता और सिरसा से विधायक गोपाल कांडा का समर्थन नहीं लेगी, जो आत्महत्या के लिये उकसाने के दो मामलों में आरोपी हैं. विधायक दल की बैठक में यहां बीजेपी महासचिव अरुण सिंह के साथ मौजूद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, “मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि भाजपा कांडा का समर्थन नहीं लेने जा रही है.”

दुष्यंत चौटाला ने क्या कहा
दुष्यंत ने कहा कि बीजेपी और JJP ने पांच सालों तक स्थायी सरकार देने का फैसला लिया है. JJP के जनता के मत का सम्मान नहीं करने के कांग्रेस के आरोप के बारे में पूछे जाने पर दुष्यंत ने कहा, “मैं पूछना चाहता हूं: क्या हमने यह चुनाव कांग्रेस के साथ लड़ा? लोगों ने यह जनादेश हमें कांग्रेस के खिलाफ भी दिया है.” उन्होंने कहा, “कांग्रेस वह पार्टी है जो देवीलाल ने 1977 से पहले छोड़ दी थी. हरियाणा में कांग्रेस का नेतृत्व वो लोग कर रहे थे जिन्होंने 10 सालों तक देश को लूटा, 63 हजार एकड़ जमीन बेची, राज्य में सीएलयू गिरोह सक्रिय था.” उनके पिता अजय चौटाला के दो हफ्तों के लिये फरलो पर रिहा होने के बारे में दुष्यंत ने कहा कि जेल नियमावली के मुताबिक वह रविवार से पहले जेल से बाहर नहीं आ सकते थे क्योंकि प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू थी. उन्होंने कहा, “वह परिवार के साथ दिवाली मनाने के लिये बाहर आ रहे हैं.

खट्टर के शपथ ग्रहण समारोह कौन-कौन होगा शामिल

हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर के शपथ ग्रहण समारोह में बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों के शामिल होने की उम्मीद है. पार्टी सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि बीजेपी के कुछ सांसद भी हरियाणा राजभवन में रविवार दोपहर आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे. जननायक जनता पार्टी (jjp) नेता दुष्यंत चौटाला भी उप मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे और उनके पिता अजय चौटाला एवं मां नैना चौटाला के भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने की उम्मीद है.

शिक्षक भर्ती घोटाले में दोषी करार दिए गए अजय चौटाला अभी तिहाड़ जेल में कैद हैं और अदालत ने उन्हें दो हफ्ते का फरलो दिया है. उनको रविवार को तिहाड़ जेल से छोड़ा जाना है. सूत्रों ने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के भी खट्टर के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने की उम्मीद है.

उल्लेखनीय है कि पिछली बार 26 अक्टूबर 2014 को जब खट्टर ने शपथ ली थी तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लाल कृष्ण आडवाणी, अमित शाह, कई केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों एवं अकाली दल के वयोवृद्ध नेता प्रकाश सिंह बादल मौजूद थे.

कौन-कौन बन सकते हैं मंत्री

सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी के छह बार से विधायक अनिल विज, बनवारी लाल, सीमा त्रिखा और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के राम कुमार गौतम और ईश्वर सिंह को नई सरकार में मंत्री पद की जिम्मेदारी मिल सकती है. वहीं बीजेपी नीत गठबंधन सरकार को समर्थन दे रहे सात निर्दलीय में से कुछ विधायक और दिवंगत देवी लाल के बेटे रंजीत सिंह चौटाला भी मंत्री पद की दौड़ में शामिल हैं. खट्टर के नेतृत्व वाली पिछली सरकार में बीजेपी के वरिष्ठ नेता अनिल विज स्वास्थ्य मंत्री थे और वह छठी बार अंबाला कैंट सीट से निर्वाचित हुए हैं. बीजेपी विधायक महिपाल ढांढा, घनश्याम सर्राफ, कमल गुप्ता, सुभाष सुधा और दीपक मंगल भी मंत्री पद की दौड़ में शामिल हैं. बता दें कि हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने शनिवार को बीजेपी के नेतृत्व वाले गठबंधन को अगली सरकार बनाने का न्यौता दिया था.