महाराष्ट्र में विपक्ष से चुनौती नहीं तो पीएम मोदी और अमित शाह की इतनी रैलियां क्यों- शिवसेना

0
83

नई दिल्ली। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए सोमवार को मतदान होने वाला है। लेकिन, भाजपा और शिवसेना गठबंधन में जुबानी जंग अब भी जारी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की रैलियों को लेकर शिवसेना ने भाजपा पर निशाना साधा।
शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा कि जब मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को लगता है कि उनकी पार्टी के नेतृत्व वाले गठबंधन को चुनौती देने के लिए विपक्ष नहीं बचा है तब उनके शीर्ष नेता प्रदेश में इतनी रैलियां क्यों कर रहे हैं।

चुनावी जंग में उतरने वाले अपने परिवार के पहले सदस्य बनें

सामना में राज्यसभा सांसद संजय राउत ने लिखा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे की चुनावी लड़ाई आने वाले वर्षों में राज्य की राजनीतिक गतिशीलता को बदल देगी। चुनावी जंग में उतरने वाले अपने परिवार के पहले सदस्य बने आदित्य ठाकरे मुंबई की वर्ली विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।उन्होंने लिखा कि मुख्यमंत्री फणनवीस जोर देकर कहते रहे हैं कि विपक्ष चुनाव प्रचार में मौजूद नहीं है। तब सवाल यह है कि प्रधानमंत्री मोदी के 10 रैलियों को और गृहमंत्री अमित शाह के 30 रैलियों को संबोधित करने के पीछे का उद्देश्य क्या है। राऊत ने यह भी कहा कि फडणवीस ने पूरे महाराष्ट्र में लगभग 100 रैलियां की हैं।