बंगाल में अम्फान चक्रवाती तूफान ने दी दस्तक, कोलकाता में 120 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान

0
160
This May 17, 2020, satellite image released by NASA shows Cyclone Amphan over the Bay of Bengal in India. Amphan has intensified into a super cyclone and expected to make a landfall near Sundarbans, south of Kolkata, on Tuesday evening, May 19, 2020. A red alert has been initiated to sea bound fishermen and disaster management teams started evacuating villagers from the sea front. (NASA Worldview, Earth Observing System Data and Information System (EOSDIS) via AP)

नई दिल्ली : चक्रवाती तूफान अम्फान बुधवार 20 मई को पश्चिम बंगाल में भारतीय तट से टकरा गया. वहां भारी बारिश हो रही है. मौसम विभाग ने कहा कि पश्चिम बंगाल में दोपहर 2.30 बजे अम्फान ने दस्तक दी और यह अगले चार घंटे तक यह जारी रहेगा. इससे कोलकाता में 120 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है. बता दें कि चक्रवात की चपेट में आने से बंगाल और ओडिशा में लगभग 4.5 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है. एनडीआरएफ ने जानमाल की हानि/क्षति रोकने के लक्ष्य से बल की 53 टीमें तैनात की हैं.

चक्रवाती तूफान अम्फान की वजह से बुधवार सुबह पश्चिम बंगाल के दीघा में भारी बारिश और तेज हवाओं का कहर देखने को मिला. अभी मिली जानकारी के अनुसार तूफान ओडिशा के पारादीप को पार कर चुका है और बंगाल के दीघा की ओर चल पड़ा है और कुछ घंटे में पहुंचने वाला है.

तूफान पारादीप 44 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गुजरा लेकिन दीघा और बंगाल की ओर जाते ही इसकी रफ्तार 200 तक पहुंच सकती है. वहीं, मौसम विभाग के महानिदेशक एम मोहपात्रा ने बताया कि अम्फान ओडिशा के पारादीप से 110 किलोमीटर पूर्व की दिशा में केंद्रीत है. यह उत्तर पूर्व दिशा में गति कर रहा है. यह दोपहर से शाम के बीच लैंड फॉल (भूस्खलन) करेगा. यह काफी तबाही मचाने वाला हो सकता है.

मोहपात्रा ने बताया, चक्रवाती तूफान अम्फान से पश्चिम बंगाल के 24 परगना और ईस्ट मिदनापुर में ज़्यादा असर होगा. कल सुबह यह बांग्लादेश पहुंचेगा. तब तक इसका विंड इमपैट खत्म हो जाएगा पर रेन फॉल इम्पैक्ट रहेगा. इसकी वजह से पश्चिम बंगाल और असम में कल भारी बारिश होगी. आज पश्चिम बंगाल में सबसे ज़्यादा बारिश होगी. इस तूफान में हवा की गति फोनी तूफान की रफ्तार के आसपास है. समुद्र के अंदर 1999 के बाद सुपर साइक्लोन यही है. 4-5 मीटर ऊंची लहरें देखने को मिल सकती है.

मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवात अम्फान ने बुधवार को दोपहर ढाई बजे के करीब पश्चिम बंगाल में दीघा और बांग्लादेश में हटिया द्वीप के बीच दस्तक दी. तेज बारिश और तूफानी हवाओं के साथ अगले चार घंटे में यह चक्रवात और भीषण हो जाएगा. मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवात के आगमन के समय इसकी रफ्तार 160-170 किलोमीटर प्रति घंटा थी. आगे इसकी रफ्तार 190 किलोमीटर प्रति घंटा पहुंचने की आशंका है. सुबह से ही पश्चिम बंगाल में गंगा के मैदानी क्षेत्र के कई जिलों में भारी बारिश हुई है और तूफानी हवाएं चल रही है. समय के साथ इसकी गति और बढ़ती जा रही है.

आईएमडी के डीजी मृत्युंजय मोहापात्रा ने बताया कि हवा की सबसे ज्यादा रफ्तार साउथ और उत्तर 24 परगना और ईस्ट मिदनापुर जिलों में होगी जो 155-165 से 185 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है. यह रफ्तार लैंडफॉल के साथ बढऩी शुरू हो चुकी है. चक्रवात के कारण भारी संख्या में पेड़ उखडऩे की खबर है. कच्चे, मिट्टी, घास फूस और टिनशेड वाले घरों को भारी नुकसान पहुंचने की जानकारी मिल रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here