कांग्रेस नेता ने भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को भारत रत्न दिए जाने की मोदी से की अपील

0
58

नई दिल्ली। कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा। इसमें उन्होंने मोदी से स्वतंत्रता सेनानी शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को भारत रत्न देने की मांग की। उन्होंने मोहाली एयरपोर्ट का नाम ‘शहीद-ए-आजम भगत सिंह हवाई अड्डा’ करने के लिए भी आग्रह किया।

तिवारी ने लिखा, ‘‘मैं आपको ध्यान दिलाना चाहता हूं कि शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव ने पूरी पीढ़ी को देशभक्ति के प्रति प्रेरित किया। 26 जनवरी 2020 को इन तीनों शहीदों को भारत रत्न दिया जाए। सभी को आधिकारिक तौर पर शहीद-ए-आजम घोषित किया जाए। इन स्वतंत्रता सेनानियों ने 23 मार्च 1931 को बलिदान दिया था।’’ हाल ही में एआईएमआईएम प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भी तीनों को भारत रत्न देने की बात कही थी। चुनाव से पहले महाराष्ट्र भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में कहा था कि वे वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग करेंगे। गृह मंत्री अमित शाह ने 17 अक्टूबर को वाराणसी में एक रैली में कहा था कि सावरकर नहीं होते तो 1857 का स्वतंत्रता संग्राम इतिहास में दर्ज नहीं हो पाता। इस पर मनीष तिवारी ने तंज कसा था कि मोदी सरकार भारत रत्न सावरकर को नहीं, बल्कि गोडसे को दे। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने 16 अक्टूबर को कहा था कि सावरकर के जीवन के दो पहलू थे। पहला- आजादी के आंदोलन में शामिल होना और दूसरा- माफी मांगकर (कालापानी से) वापस आने पर उनका नाम महात्मा गांधी की हत्या के साजिशकर्ताओं में दर्ज हुआ।