अरविंद केजरीवाल ने दिया जनता को भरोसा, कहा – लॉकडाउन खोलना जरुरी, हमारी सरकार ने कोरोना से लड़ने के लिए कर रखे है जरुरत से ज्यादा इंतजाम

0
201

नई दिल्ली :देश में बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों के बीच आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार ने इस महामारी से बचाव के लिए जरूरत से ज्यादा इंतजाम किए हैं. हम कोरोना से चार कदम आगे हैं. उन्होंने बताया कि दिल्ली में आज तक 17386 केस सामने आए हैं. इसमें से 7846 लोग ठीक हो गए हैं. 9142 लोग अभी बीमार हैं. 398 लोगों की मौत हो चुकी है. सीएम ने दिल्ली में कोरोना के केस बढ़ने पर चिंता जताते हुए कहा कि मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि सरकार बीमारी से बचाव के लिए जरूरत से ज्यादा इंतजाम कर रही है. कोरोना के मरीजों की कम से कम मौत हो, इसके लिए सरकार काम कर रही है. अस्पतालों में बेड कम न पड़े, ऑक्सीजन की सप्लाई बाधित न हो, इसका इंतजाम किया. 2100 मरीज अभी अस्पताल में हैं. एक हफ्ते पहले 4500 बेड थे, इसमें 2100 बढ़ा दिए गए हैं. यानी 6600 बेड अभी उपलब्ध हैं. 5 जून तक दिल्ली में 9500 बेड उपलब्ध होंगे.

सीएम केजरीवाल ने बताया कि निजी अस्पतालों में 2500 से ज्यादा बेड हैं, जिसे 5 जून तक 3600 से ज्यादा कर लिया जाएगा. सरकारी अस्पतालों में भी दिल्ली सरकार ने अच्छी व्यवस्था की है. इसके अलावा होटल भी टेकओवर किए जा रहे हैं, ताकि मरीजों का इलाज हो सके. उन्होंने कहा कि 15 दिनों में 8500 केस बढ़े, लेकिन अस्पतालों में सिर्फ 500 रजिस्टर हुए. यानी लोग घरों में हैं और ठीक हो रहे हैं. इसलिए चिंता करने की जरूरत नहीं है.

एक और परेशानी यह है कि एक तरफ तो हम अस्पताल में बेड, ऑक्सीजन का इंतजाम आदि का दावा कर रहे हैं. लेकिन दूसरी तरफ यह समस्या है कि लोगों को जानकारी का अभाव है. कोरोना प्रभावित लोगों को इसकी जानकारी नहीं है. दिल्ली सरकार इसके लिए एक एप लॉन्च कर रही है. परसों यह मोबाइल एप लॉन्च हो जाएगा. आप अपने मोबाइल पर इसे डाउनलोड कर लीजिएगा. इसमें सभी अस्पतालों में बेड और अन्य सुविधाओं की जानकारी होगी. आपको घर बैठे सारी जानकारी हासिल होगी. अगर आपके घर में कोई बीमार है, तो इस एप की मदद से आप नजदीकी अस्पताल में जाकर इलाज करा सकेंगे.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि कोरोना से बचाव के बीच कुछ लोग सरकार के प्रयासों का मजाक उड़ा रहे हैं. दिल्ली के अस्पतालों में मरीजों को खाना न मिलने या सुविधाओं के अभाव की झूठी बातें फैलाई जा रही हैं. यह गलत है. सोशल मीडिया पर ऐसे जो वीडियो वायरल किए जा रहे हैं, वह यहां के कोरोना वॉरियर्स का मखौल उड़ाना है. अगर आपको ऐसा कोई वीडियो मिले, तो तत्काल इस बारे में बताएं, सरकार उसकी जांच कराएगी. जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here