मां के लिए सोशल मीडिया में 50 साल का दूल्हा तलाश कर रही आस्था

0
242

कानपुर। सोशल मीडिया का कितना सोशल यूज हो सकता है? अगर इस बात को समझना हो तो हम आस्था वर्मा नाम की ट्विटर यूजर की प्रोफाइल का रुख सकते हैं. एलएलबी स्टूडेंट आस्था की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. तस्वीर में आस्था के साथ उनकी मां हैं. उस तस्वीर के माध्यम से आस्था अपने लिए पिता और अपनी मां के लिए पति तलाश कर रही हैं. अपनी मां के लिए योग्य पति तलाश करने वाली आस्था ने अपने इस पोस्ट में उन खूबियों का भी जिक्र किया है जो उस व्यक्ति में होनी चाहिए जो उनकी मां से शादी करने वाला है
आस्था वर्मा ने ट्विटर पर अपनी मां के साथ सेल्फी डालते हुए ट्वीट किया है और लिखा है की अपनी मां के लिए 50 साल के सुंदर व्यक्ति की तलाश कर रही हूं. इसके अलावा आस्था ने अपने इस ट्वीट में कुछ शर्तें भी लिखी हैं. आस्था के अनुसार उन्हें अपनी मां के लिए एक ऐसा व्यक्ति चाहिए जो शाकाहारी हो, शराब ना पीता हो और साथ ही जो संपन्न होना चाहिए.

आस्था के इस पोस्ट पर सबसे दिलचस्प रुख उन लोगों का रहा है जिनके नाम के आगे नीला टिक लगा है. यानी जिनके ट्विटर अकाउंट वेरीफाइड हैं. सोशल मीडिया पर उनकी इस कोशिश की सराहना भी हो रही है। आईएएस ऑफिसर डॉक्टर दिव्या एस अय्यर ने आस्था को बधाई देते हुए लिखा है कि उनकी ये पहल वाकई काबिले तारीफ है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की ओएसडी निधि कामदार ने भी आस्था की इस पहल की सराहना की है और लिखा है कि ये बहुत अलग है और ट्विटर का बहुत अच्छा और बोल्ड इस्तेमाल किया गया है.वहीं रेड एफएम की आरजे मीरा ने भी आस्था के इस प्रयास की तारीफ की है और परिवर्तन की दिशा में इसे एक बड़ा कदम बताया है.

वहीं कई तरफ से आस्था को निगेटिव प्रतिक्रियाएं भी मिल रही है। मामले में दिलचस्प बात ये है कि लोगों की प्रतिक्रिया देखकर आस्था बिलकुल भी आहात नहीं हैं और वो लोगों को उसी अंदाज में जवाब दे रही हैं जिस अंदाज में वो उनसे सवाल कर रहे हैं.

ऐसे भी तमाम यूजर हैं जो आस्था को ज्ञान दे रहे हैं कि वो गलत जगह पर अपने पिता के लिए रिश्ता खोज रही हैं. ऐसे लोगों को भी आस्था ने खूब जवाब दिया है और कहा है कि वो इस बात को जानती हैं मगर यहां ढूंढने में कोई हर्ज इसलिए भी नहीं है क्योंकि यहां पर उनकी आवाज सुनी जाएगी. आस्था के इस इस ट्वीट को अब तक चार हजार 600 लोगों ने री ट्वीट किया है जबकि तकरीबन 21 हजार लोगों ने इसे पसंद किया है और इसपर प्रतिक्रियाएं हर अंदाज में आ रही हैं. मामले पर जिस तरह लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं उन्हें देखकर इस बात का एहसास हो गया है कि आस्था के इरादे तो सही थे मगर अपनी बात रखने के लिए जिस प्लेट फॉर्म का इस्तेमाल उन्होंने किया वो अभी इतना मैच्योर नहीं हुआ है कि उनकी बात को समझे. आस्था को समझना चाहिए था कि ट्विटर मौजमस्ती और चुहल से ज्यादा और कुछ नहीं है.

इसलिए चुना सोशल मीडिया का माध्यम
सुमित उद्गल नाम के शख्स ने ट्वीट किया, श्मेरे अंदर आपकी बताई सारी खूबियां हैं। हालांकि, मैं सिर्फ 24 साल का हूं। इस पर आस्था ने मजाकिया लहजे में कहा कि अगर आप 24 के बजाय 42 के होते तो आपके बारे में सोचा जा सकता था।जॉनी नाम के एक यूजर ने आस्था को सलाह देते हुए कहा कि वह गलत वेबसाइट पर हैं। दूल्हा-दुल्हन की तलाश के लिए मेट्रिमोनियल वेबसाइट ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकती हैं। इस पर आस्था ने जवाब दिया, सब जगह कोशिश की पर कामयाबी नहीं मिली। काफी दिनों तक शांत बैठी रही। फिर सोचा क्यों न मां की खुशी के लिए ऐसे मंच पर उसकी शादी का प्रस्ताव रखूं, जहां मेरी आवाज ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच सकती है।