लोकमान्य तिलक के 8 डिब्बे पटरी से उतरे, 40 घायल, पांच गंभीर, कई ट्रेनों का रूट बदला गया

0
224

कटक। बेहद घना कोहरा होने के कारण कटक के थोड़ा आगे निरगुंडी स्टेशन के पास मुंबई-भुवनेश्वर सुपरफास्ट लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस (12879) पटरी से उतर गयी। ट्रेन मालगाड़ी के गार्ड के डिब्बे से टकरा गयी। इसके आठ डिब्बे बेपटरी हो गए। इस घटना से करीब 40 यात्रियों के घायल होने की खबर है। इनमें पांच की हालत गंभीर बताए जाते हैं। रेलवे अधिकारियों के अनुसार पांच ट्रेनों का रूट बदला गया। जानकारी के अनुसार करीब सात बजे सुबह हुई इस घटना से यात्रियों में हायतौबा मच गयी। घायलों को बस और एंबुलेंस से कटक के एससीबी मेडिकल कालेज के अस्पताल में लाया गया।

इन ट्रेनों का रूट डायवर्ट किया गया। 12880 भुवनेश्वर-एलटीटी एक्सप्रेस को नौराज की ओर से मोड़ा गया। 58132 पुरी-राउरकेला पैसेंजर भी नौराज से, 18426 दुर्ग-पुरी एक्सप्रेस भी नौराज, 12831 धनबाद-भुवनेश्वर राज्यरानी एक्सप्रेस भी नौराज, 68413 तलचर-पुरी-मेमू को भी नौराज से मोडकर गंतव्य की तरफ भेजा गया। बताया जाता है कि लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस के पांच डिब्बे पूरी से पटरी से उतर गए जबकि तीन आंशिक रूप से बेपटरी हुए। ईस्ट-कोस्ट रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन अफसर जेपी मिश्रा ने बताया कि 20 यात्री घायल हुए हैं जिनमें से पांच गंभीर हैं।

इस दुर्घटना में किसी के भी मरने की खबर नहीं है। अग्निशमन दल ने मौके पर पहुंच कर सहायता कार्य शुरू कर दिया है। गंभीर रूप से घायलों की पहचान जितेंद्र पाढ़ी, पुष्पांजलि नायक, सरत बेहरा और अश्विनी कुमार लेंका तथा एक नाम पता नहीं चल सका। रेलवे ने हेल्प लाइन नंबर 0671-1072 कटक, 0674-1072 खोरदा रोड भुवनेश्वर, यही नंबर पुरी के लिए भी जारी किया गया है।