उन्नाव रेप केस: CBI ने एम्स में दर्ज किया पीड़िता का बयान, ICU से वार्ड में शिफ्ट हुई पीड़िता: सूत्र

0
49

नई दिल्ली: उन्नाव एक्सीडेंट मामले में सीबीआई अधिकारियों ने एम्स जाकर उन्नाव रेप पीड़िता का बयान दर्ज किया. सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली. हालांकि सीबीआई ने अभी तक इस खबर की पुष्टि नहीं की है. लेकिन डॉक्टर्स का कहना है कि रेप पीड़िता अब आईसीयू से बाहर है और उसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है. पीड़िता के वकील अभी भी आईसीयू में हैं और उनका बयान दर्ज होना बाकी है. वकील का बयान दर्ज करने के लिए सीबीआई डॉक्टर के अपडेट का इंतजार कर रही है. सीबीआई 6 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट में जांच रिपोर्ट जमा करेगी. जांच लगभग पूरी हो चुकी है.

बता दें कि इससे पहले दुष्कर्म पीड़िता के चाचा के मुकदमों की पैरवी करने वाले पैरोकार (रिप्रेजेंटेटिव) ड्राइवर पर गुरुवार रात जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज किया गया था. पैरोकार ने आरोप लगाया था कि वह पीड़िता के वकील के सहायक अधिवक्ता से उन्नाव कचहरी से मिलकर गांव स्थित घर लौट रहा था.

तभी पांच हमलावरों ने पहले रास्ते में उसका घेराव किया. फिर रात में उसके घर पर चढ़कर उसके साथ मारपीट की और जान से मारने की धमकी दी. सुरक्षा के मद्देनजर पैरोकार का नाम न बताने की बात थानाध्यक्ष माखी राजबहादुर ने कही है.

गौरतलब है कि महिला के साथ कथित रूप से सेंगर ने चार जून 2017 को और तीन अन्य लोगों ने 11 जून 2017 को दुष्कर्म किया था. महिला फिलहाल एम्स में जिंदगी की जंग लड़ रही है. एक ट्रक ने 28 जुलाई को उस गाड़ी में टक्कर मार दी थी जिसमें महिला अपने परिवार के कुछ सदस्यों और वकील के साथ सफर कर रही थी.

हादसे में पीड़िता की दो महिला रिश्तेदारों की मौत हो गई थी. उत्तर प्रदेश विधानसभा में चार बार बांगरमऊ विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके सेंगर अप्रैल 2018 से ही जेल में बंद है.