पेट्रोल-डीजल पर दिए अपने बयान से पलटे केंद्रीय मंत्री अठावले, मांगी माफी

0
141

मुंबई : केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास आठवले ने अपने ‘फ्री में पेट्रेल-डीजल’ वाले बयान पर माफी मांग ली है। अठावले ने कहा था कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से उन्हें कोई परेशानी नहीं हैं क्योंकि वह एक मंत्री हैं। अपने बयान पर माफी मांगते हुए उन्होंने कहा कि मेरा किसी को ठेस पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था। आपको बता दें कि अठावले के बयान के बाद सोशल मीडिया पर काफी तीखी प्रतिक्रिया हुई थी, और लोगों ने उनकी जमकर आलोचना की थी।

क्या कहा था अठावले ने ?

इससे पहले अठावले से जब पेट्रोल एवं डीजल की बढ़ती कीमतों से आम आदमी को होने वाली परेशानी के बारे में पूछा गया था तो उन्होंने हल्के-फुल्के अंदाज में कहा था, ‘मैं पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान नहीं हूं। चूंकि मैं मंत्री हूं, मेरा मंत्री पद जाएगा तो मैं परेशान हो जाऊंगा। लेकिन जनता परेशान है। इसे समझ सकते हैं और कीमतें कम करने का दायित्व सरकार का है।’ उन्होंने साथ ही कहा कि केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल के बढ़ते भावों पर लगाम लगाने का प्रयास कर रही है पर राज्यों को भी इसके लिए कोशिश करनी चाहिए।

अठावले ने मांगी माफी

इस बयान पर माफी मांगते हुए अठावले ने कहा, ‘पत्रकारों ने मुझसे पूछा था कि पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं, क्या मुझे इससे कोई परेशानी है। मैंने कहा था कि मुझे कोई दिक्कत नहीं है क्योंकि मैं एक मंत्री हूं और चलने के लिए सरकारी गाड़ी दी जाती है। लेकिन लोगों को दिक्कतें हो रही हैं और कीमत कम होनी चाहिए। मैंने किसी को अपमानित करने के लिए ऐसा नहीं कहा।’

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘यदि इससे लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं तो मैं माफी चाहता हूं। किसी को आहत करने का मेरा कोई इरादा नहीं था। मैं एक आम आदमी हूं जो कि मंत्री बना है। मैं आम लोगों की दिक्कतें समझ सकता हूं। मैं सरकार का हिस्सा हूं और कीमतें कम करने की मांग करता हूं।’