बैंक खाते में 15 लाख रुपये एक जुमला था और अब राम मंदिर भी एक जुमला है : उद्धव ठाकरे

0
90

मुंबई : एनडीए में भाजपा की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला है। पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि वे कहते हैं कि जब भी राम मंदिर का मुद्दा उठाओ तो कांग्रेस बीच में आ जाती है, लोगों ने कांग्रेस को सजा देते हुए आपको बहुमत में वोट दिया लेकिन राम मंदिर तो अभी भी नहीं बना।

उन्होंने कहा, ‘हनुमान जी की जाति पर चर्चा क्यों हो रही है? अन्य धर्मो की जाति पर चर्चा करते हैं तो बवाल हो जाता है लेकिन हनुमान जी की जाति पर चर्चा हो रही है। यह दुखद है।’

‘राम मंदिर भी एक जुमला है’

ठाकरे यहीं नहीं रूके, उन्होंने आगे कहा, ‘बैंक खाते में 15 लाख रुपये एक जुमला था और अब राम मंदिर भी एक जुमला है? जब हम अयोध्या गए थे तो लोग कह रहे थे ये तो बाला साहेब का लड़का आया है ये तो राम मंदर बनाके जाएगा। यदि आप इस मुद्दे को भी एक जुमला बनाना चाहते हैं तो लोग फिर किस मुंह से आप पर भरोसा करें? ‘

8 लाख सलाना कमाई वाले टैक्स के दायरे से बाहर क्यों नहीं?

10 फीसदी आरक्षण देने के फैसले पर भाजपा पर हमला करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘यदि आप वाकई में आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों की मदद करना चाहते हैं तो फिर आप 8 लाख सलाना कमाई करने वालों को इनकम टैक्स के दायरे से बाहर क्यों नहीं रखते? आपने आरक्षण दिया लेकिन क्या आपने आरक्षण को लागू करने के उपायों के बारे में सोचा?’

कांग्रेस कर रही है न्यायिक प्रक्रिया को रोकने की कोशिश

वहीं उद्धव ठाकरे के राम मंदिर वाले बयान पर बीजेपी महासचिव राम माधव ने पलटवार करते हुए कहा- ‘हमने बार-बार राम मंदिर के निर्माण के लिए अपनी प्रतिबद्धता दिखाई है। हमारी सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है कि कानूनी प्रक्रिया शीघ्रता से आगे बढ़े, लेकिन कांग्रेस न्यायिक प्रक्रिया को रोकने की कोशिश कर रही है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here