चिन्मयानंद को झटका: छात्रा के आरोपों की होगी SIT जांच- सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार को दिया निर्देश

0
51

नई दिल्ली: पूर्व BJP सांसद स्वामी चिन्मयानंद प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को स्पेशल टास्क फोर्स (SIT) गठित करने का आदेश दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच होनी चाहिए. सर्वोच्च न्यायालय ने कहा है कि यह जांच आईजी रैंक के अधिकारी करेंगे. इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने लड़की और उसके घरवालों को सुरक्षा मुहैया कराने का भी निर्देश दिया है. चिन्मयानंद पर उनके ही कॉलेज में पढ़ने वाली एक लॉ स्टूडेंट ने उत्पीड़न का आरोप लगाया है

बता दें कि BJP नेता चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली शाहजहांपुर के एसएस लॉ कॉलेज की लापता छात्रा राजस्थान के जयपुर से करीब 95 किलोमीटर दूरे टोंक से 7 दिन बाद मिली थी. लड़की अपने दोस्त संजय सिंह के साथ थी. उन्हें यूपी पुलिस की स्पेशल टीम ने पकड़ा.

मालूम हो कि शाहजहांपुर की एलएलएम की छात्रा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता चिन्मयानंद पर उसका और कई लड़कियों का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था. फेसबुक लाइव वीडियो में आरोप लगाने के बाद वह लापता हो गई थी. इस मामले में कुछ वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट से स्वत: संज्ञान लेने का अनुरोध किया था. उन्होंने कहा था कि आरोप लगाने वाली छात्रा तीन दिनों से गायब है लिहाजा सुप्रीम कोर्ट दखल दे. सुप्रीम कोर्ट ने मामले में संज्ञान लिया था.