भारत-रूस के बीच आज होंगे S-400 मिसाइल डिफेंस पर करार

0
178

नई दिल्ली: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के भारत दौरे का आज दूसरा दिन है. शुक्रवार को एस-400 वायु रक्षा प्रणाली की आपूर्ति के लिए समझौते पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद जताई जा रही है. यह करार 5.2 अरब डॉलर का होगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शुक्रवार को 19वीं द्विपक्षीय वार्षिक शिखर बैठक में शिरकत करेंगे. प्रतिबंध लगाए जाने की अमेरिकी धमकी के बावजूद भारत रूस से 5 अरब डॉलर के एस-400 ट्रायम्फ एयर डिफेंस सिस्टम सौदा करेगा. इसके अलावा दोनों देश अंतरिक्ष, रक्षा और ऊर्जा समेत कई अन्य अहम समझौते भी किए जाने की संभावना है।

सूत्रों की माने तो दोनों देशों के बीच 7 अरब डॉलर के रक्षा समझौतों पर फैसला हो सकता है.

खबरों की माने तो रूसी राष्ट्रपति के सहयोगी यूरी उशाकोव ने पत्रकारों से कहा कि मोदी और पुतिन वार्ता के बाद दोनों राष्ट्रों के बीच 20 से अधिक समझौते करने की योजना है.

दोनों देशों के बीच अगर ये समझौते होते है तो रक्षा, अंतरिक्ष, व्यापार, ऊर्जा और पर्यटन जैसे प्रमुख क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा मिलेगा.

खबरों की माने तो 5.2 अरब डॉलर की लागत वाली एस-400 एयर डिफेंस डील के तहत 5 रेजिमेंट्स के लिए करार होगा.

दूसरी तरफ रूसी राष्ट्रपति की भारत यात्रा से ठीक पहले अमेरिका ने एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील को लेकर भारत को चेतावनी दी है. अमेरिका का कहना है कि, भारत जिस एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम को खरीदने की तैयारी में है, वह अमेरिकी दंडात्मक प्रतिबंधों के दायरे में आता है.

इधर अमेरिका के चेतावनी के बावजूद इस डील को लेकर रूस और भारत को आगे की संभावना जताई जा रही है. बता दें कि, बृहस्तवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भारत के दो दिन के दौरे पर नई दिल्ली पहुंचे हैं.