रेवाड़ी गैंगरेप केस : पांच दिन बाद हुई पहली गिरफ्तारी, कांग्रेस बोली 48 घंटे में शिकंजे में हो आरोपी नहीं तो दें इस्तीफा

0
117

नई दिल्ली : हरियाणा के रेवाड़ी गैंगरेप कांड में आखिरकार आरोपियों पर कानून का शिकंजा कस गया है. पांच दिन बाद पुलिस ने एक डॉक्टर समेत 2 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने दावा किया है कि गैंगरेप कांड का मुख्य आरोपी सेना में शामिल है और वह राजस्थान के कोटा में तैनात है.

वहीं, खट्टर सरकार ने रेवाड़ी के एसपी का ट्रांसफर कर दिया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपनी सुरक्षा में तैनात राहुल शर्मा को रेवाड़ी एसपी की जिम्मेदारी सौंपी है. साथ ही उन्होंने इस संबंध में डीजीपी बीएस संधु से चंडीगढ़ में मुलाकात की. सीएम अपने पठानकोट और जालंधर के कार्यक्रम रद्द कर चंडीगढ़ लौटे थे. उन्होंने आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं.

दो की हुई गिरफ़्तारी

हरियाणा के डीजीपी ने बताया, ‘हमने दीनदयाल और डॉक्टर संजीव को गिरफ्तार किया है. दीनदयाल क्राइम स्पॉट एरिया का मालिक है और डॉक्टर संजीव पीड़िता को प्राथमिक उपचार देने पहुंचा था. इन दोनों से पूछताछ में काफी जानकारी मिली है, हम उसके आधार पर तफ्तीश आगे बढ़ा रहे हैं और जल्द ही मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.’

उन्होंने आगे बताया कि मुख्यमंत्री के साथ उनकी बातचीत हुई है और मैंने उन्हें पूरे घटनाक्रम से अवगत कराया है. स्थानीय पुलिस ने कार्रवाई में जो कोताही बरती उसके लिए रेवाड़ी एसपी का ट्रांसफर कर दिया गया है.

मां ने मुआवजा लेने से किया इनकार

वहीं, गैंगरेप पीड़िता की मां ने मुआवजे का चेक लेने से इनकार कर दिया है. राज्य के प्रशासनिक अधिकारी परिवार के पास 2 लाख रुपये का चेक लेकर पहुंचे थे, जिसे लेने से उन्होंने मना कर दिया. परिजनों ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए FIR दर्ज करने में देरी का आरोप लगाया है.

’48 घंटे में गिरफ्तारी नहीं तो इस्तीफा’

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस घटना को खट्टर सरकार की नाकामी बताया है. उन्होंने कहा है कि 48 घंटे में अगर अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है तो यह सरकार की विफलता है. सुरजेवाला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का इस्तीफा भी मांगा.

50 से ज्यदा से हुई पूछताछ

एसआईटी प्रमुख नाजिन भसीन ने बताया है कि इस मामले में अबतक 50-60 लोगों से पूछताछ की जा चुकी है. इसके अलावा चश्मदीदों से भी जानकारी जुटाई जा रही है. एसआईटी के मुताबिक इस मामले में जल्द ही फॉरेंसिक रिपोर्ट भी आ जाएगी.

पुलिस के मुताबिक लड़की रेलवे परीक्षा की तैयारी कर रही थी. वह इसके लिए महेंद्रगढ़ के कनिना में कोचिंग कर रही थी. कोचिंग जाते वक्त उसका अपहरण कर लिया गया और नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया गया. बताया जा रहा है कि गैंगरेप में कई लोग शामिल हैं. पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है और प्रकरण की जांच कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here