देहरादून में राहुल ने साधा मोदी पर निशाना,कहा – अच्छे दिन का नारा अब चौकीदार चोर है बन गया

0
29

नई दिल्ली: मोदी मैजिक के सहारे उत्तराखंड में चुनावी रथ हांकने में लगी भाजपा को रोकने की बड़ी चुनौती कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने है। जिसके चलते उत्तराखंड में राहुल हुंकार भर रहे है. राजधानी देहरादून के परेड ग्राउंड में राहुल जनसभा को संबोधित कर रहे हैं. इस दौरान मंच पर बड़ी तस्वीर सामने आई. बीजेपी नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस का हाथ थाम लिया है.

जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘उत्तराखंड की पवित्र भूमि पर आकर मुझे बहुत खुशी हो रही है. सेना में उत्तराखंड की जो भागीदारी है, पूरा हिंदुस्तान उसका दिल से स्वागत करता है. पुलवामा में सीआरपीएफ के सैनिक शहीद हुए. पुलवामा ब्लास्ट के बाद हमने तुरंत कहा कि कांग्रेस पार्टी पूरे दम के साथ सरकार और देश के साथ खड़ी है. लेकिन उसी समय प्रधानमंत्री कॉर्बेट पार्क में वीडियो शूट में लगे हुए थे. मुस्कराते हुए साढ़े तीन घंटे वो यहां लगे रहे और दिनभर देशभक्ति की बात करते हैं.’

अनिल अंबानी ने ऐसा क्या किया

राफेल का मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि जो शख्स कागज का हवाई जहाज नहीं बना सकता है, उसे पीएम मोदी ने दुनिया के सबसे बड़ा रक्षा सौदा दे दिया. 526 करोड़ का राफेल 1600 करोड़ में नरेंद्र मोदी ने ले लिया. अनिल अंबानी ने 10 पहले कंपनी बनाई और उसे इतना बड़ा कॉन्ट्रैक्ट दे दिया.

राहुल ने कहा कि जब सीबीआई चीफ जांच की बात कहते हैं तो रात को डेढ़ बजे पीएम मोदी उन्हें हटा देते हैं. लेकिन सुप्रीम कोर्ट कहता है कि उन्हें वापस लाया जाए. इसके बाद फिर नरेंद्र मोदी उन्हें हटा देते हैं. राहुल ने फिर राफेल की जांच के लिए जेपीसी का जिक्र किया.

राहुल गांधी ने पूर्व सीएम बीसी खंडूरी को आधार बनाते हुए भी पीएम मोदी को घेरा. राहुल ने कहा, ‘बीसी खंडूरी ने संसद की कमेटी में राष्ट्रीय सुरक्षा का सवाल पूछा लिया कि जो ताकत सेना के पास होनी चाहिए, वो नहीं है. खंडूरी जी ने सच्चाई बोली जिसके बाद नरेंद्र मोदी ने उस कमेटी से बीसी खंडूरी को हटा दिया.’

शहीदों के परिवारों से मिलेंगे राहुल

रैली करने के बाद राहुल गांधी 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के परिवारों से भी मिलेंगे. साथ ही पुलवामा हमले के बाद नौशेरा में IED विस्फोट में शहीद हुए मेजर चित्रेश बिष्ट के परिवार से भी राहुल गांधी मुलाकात करेंगे.

कांग्रेस अध्यक्ष सबसे पहले शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट के परिजनों से मिलेंगे. बता दें कि मेजर चित्रेश बिष्ट की 7 मार्च को शादी थी, और वो 28 फरवरी को छुट्टी पर आने वाले थे. घर में खुशी का माहौल था और परिवार कार्ड बांट रहा था.

चित्रेश बिष्ट के अलावा राहुल गांधी पुलवामा में शहीद मोहनलाल रतूड़ी और शहीद मेजर विभूति ढोंडियाल के परिजनों से भी मुलाकात करेंगे. शहीदों के परिवारों से मिलकर राहुल गांधी दिल्ली वापस आ जाएंगे.

उत्तराखंड में पांच लोकसभा सीटें हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में इन सभी सीटों पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी. ऐसा तब हुआ था, जबकि राज्य में कांग्रेस की सरकार थी. इसके बाद 2017 में विधानसभा चुनाव हुए तो बीजेपी को सत्ता मिली. अब एक तरफ जहां राज्य में भी बीजेपी की सरकार है, ऐसे में कांग्रेस के लिए मजबूत माने जाने वाले उत्तराखंड में वापसी करना पार्टी और राहुल गांधी के लिए बड़ी चुनौती होगा. बता दें कि उत्तराखंड में बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला होता है. हालांकि, इस चुनाव में बसपा और सपा ने यूपी की तरह ही उत्तराखंड में भी साथ लड़ने का फैसला किया है, लेकिन हरिद्वार लोकसभा सीट के अलावा गठबंधन का असर नगण्य है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here