गांधीनगर में राहुल की गांधीगिरी, हमने मसूद अजहर को पकड़ा, आपने छोड़ दिया

0
59

गांधीनगर: कांग्रेस की वर्किंग कमिटी की मीटिंग के बाद राहुल गांधी ने गांधीनगर में एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान राहुल ने किसानों, जवानों, न्यायपालिका और रोजगार के मुद्दे पर मोदी सरकार को जमकर घेरा। राहुल ने पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए कहा कि हमले के जिम्मेदार आतंकी मसूद अजहर को कांग्रेस सरकार ने पकड़ा था लेकिन बीजेपी की सरकार ने मसूद अजहर को हवाई जहाज में बिठाकर पाकिस्तान भेज दिया।

राहुल ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, ‘दो विचारधाराओं की लड़ाई है- एक महात्मा गांधी की है और दूसरी शक्तियां इस देश को कमजोर करने में लगी हैं। आप देखिए कि इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जज प्रेस के पास जाते हैं और कहते हैं कि हमें काम करने नहीं दिया जा रहा है और उसके एकदम बाद जज लोया जी का नाम लेते हैं। आमतौर पर जनता सुप्रीम कोर्ट के पास जाती है न्याय के लिए लेकिन आज के हिंदुस्तान में सुप्रीम कोर्ट के जज जनता के सामने न्याय मांगते हैं। हिंदुस्तान की संस्थाओं पर आक्रमण चालू है। लोगों को बांटा जा रहा है, नफरत फैलाई जा रही है और सच्चे मुद्दों की बात सरकार नहीं करती है।’

किसानों और बेरोजगारी को बताया बड़ा मुद्दा
राहुल ने कहा, ‘हिंदुस्तान के सामने सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी है। आज 45 साल से ज्यादा बेरोजगारी है। मोदीजी मेक इन इंडिया और स्टार्टअप इंडिया की बात करते हैं लेकिन सच यह है कि हिंदुस्तान का युवा अलग-अलग प्रदेशों में रोजगार ढूंढते भटक रहा है। दूसरा मुद्दा किसानों का है- गुजरात के चुनाव में हमने किसानों की बात की और किसानों ने गुजरात में हमारा पूरा साथ दिया। नरेंद्र मोदीजी 3.5 लाख करोड़ रुपये का 15 लोगों का कर्जा माफ करते हैं लेकिन किसानों का कर्जा माफ नहीं करते और उल्टा अरुण जेटली जी कहते हैं कि किसानों का कर्जा माफ करना हमारी पॉलिसी नहीं है।

‘फसल बीमा में 15 अमीर लोगों को फायदा’
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आगे कहा, ‘बीमा का पैसा किसान देते हैं लेकिन नुकसान होने पर 15 अमीरों की जेब में पैसा जाता है। हमने तीन प्रदेशों में कर्जमाफी का वादा किया और 10 दिन भी नहीं लगे, सिर्फ दो दिन के अंदर किसानों का कर्ज माफ करके दिखाया। मुझे दुख होता है कि गुजरात के किसानों का कर्ज माफ नहीं कर पाए लेकिन मैं जानता हूं कि आपकी भी जरूरत है।

राफेल मुद्दे का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने मंच से जैसे ही कहा कि ‘चौकीदार‘, जनता से आवाज आने लगी- ‘चोर है’। इसपर राहुल ने कहा, ‘2014 के चुनाव में मोदीजी ने कहा था कि चौकीदार बनाओ, पीएम नहीं। ये देखिए मैंने चौकीदार शब्द बोला और लोग चोर बोल रहे हैं। हर स्टेज से मोदी देशभक्ति की बात करते हैं। वायुसेना की प्रशंसा करते हैं लेकिन वह देश को यह नहीं बताते कि वह वायुसेना की जेब से 30 हजार करोड़ चोरी करके पीएम मोदी ने अनिल अंबानी की जेब में क्यों डाला।’

‘हमने मसूद अजहर को पकड़ा, आपने छोड़ दिया’
पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, ‘मसूद अजहर ने पुलवामा में अटैक किया। मैं मोदीजी से पूछना चाहता हूं कि मसूद अजहर को पाकिस्तान किसने भेजा? बीजेपी की सरकार ने विशेष हवाई जहाज में बिठाकर और देश का पैसा देकर उसे भेजा। हवाई जहाज में अजीत डोभाल भी एस्कॉर्ट बनकर पाकिस्तान गए। आप देशभक्ति की बात करते हैं। हमने मसूद अजहर को पकड़ा था लेकिन आपने छोड़ दिया। जिस दिन पाकिस्तान के खिलाफ लड़ाई हो रही थी, उसी दिन मोदीजी ने अपने दोस्त के नाम देश के पांच एयरपोर्ट कर दिए।