वोटिंग के बीच पंजाब में सत्ता संघर्ष? कैप्टन अमरिंदर बोले- मुझे हटाकर CM बनना चाहते हैं सिद्धू

0
74

एक ओर पंजाब की 13 लोकसभा सीटों पर वोटिंग चल रही है, वहीं दूसरी ओर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच चल रही अनबन खुलकर सामने आ गई है. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज सिद्धू पर पलटवार करते हुए कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू खुद मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं और मुझे रिप्लेस करना चाहते हैं.

बता दें कि अमृतसर लोकसभा सीट को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं. वह चाहते थे कि उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू को टिकट मिले, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. सिद्धू की लगातार बयानबाजी पर पलटवार करते हुए रविवार को कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मेरे और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच कोई जुबानी जंग नहीं चल रही है, उनकी अपनी ख्वाहिशें हैं. हर व्यक्ति की अपनी ख्वाहिशें होती हैं.

पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं उन्हें बचपन से जानता हूं मेरे और उनके बीच को जंग नहीं चल रही है, लेकिन वह खुद मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं और मुझे बदलना चाहते हैं.

आपको बता दें कि पंजाब में मतदान से पहले ही नवजोत कौर सिद्धू ने मुख्यमंत्री और प्रदेश नेतृत्व के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था. नवजोत कौर सिद्धू ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह एवं कांग्रेस की वरिष्ठ नेता आशा कुमारी पर अमृतसर से लोकसभा टिकट नहीं दिए जाने का आरोप लगा कर विवाद खड़ा कर दिया था.

जब इस मुद्दे पर नवजोत सिंह सिद्धू से सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा था कि मेरी पत्नी कभी झूठ नहीं बोलती है. बता दें कि अमृतसर टिकट ना मिलने पर नवजोत कौर की तरफ से चंडीगढ़ टिकट की डिमांड की गई थी, लेकिन दोनों ही मांगें नहीं मानी गई थीं. उन्होंने निशाना साधते हुए कहा था कि कैप्टन साहब को लगता है कि मिसेज़ सिद्धू चुनाव नहीं जीत पाएंगी. इस सीट पर इस बार कांग्रेस की ओर से गुरजीत औजला और बीजेपी की ओर से केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी मैदान में हैं.