पुलिस की घूसखोरी से नेपाल सीमा पर जाम, मामला दूतावास पहुंचा

0
81

सोनौली: एक तरफ भारत अपने पड़ोसी देश नेपाल से तल्ख होते संबंधों को ठीक करने की कोशिश कर रहा है वहीं सीमावर्ती पुलिस ने अपनी जेब भरने के लिए दोनों देशों के लोगों को परेशानी में डाल दिया है। सोनौली नेपाल सीमा पर पुलिस ने अवैध वसूली के लिए 20 किलोमीटर लंबा जाम लगवा दिया। इससे नेपाल के लिए जरूरी सामान ले जाने वाले सौकड़ों ट्रक फंस गए। कई नेपाली संगठनों ने इसकी शिकायत काठमांडू स्थित भारतीय दूतावास को की है।

सोनौली नेपाल सीमा से संपतिहा और नौतनवा के इलाके में नेपाल सामान ले जा रहे ट्रकों को रोक कर उन्हें आगे निकलवाने के लिए पैसे वसूले जा रहे हैं। आगे जा रहे वाहनों को रोक कर पहले उन ट्रकों को आगे निकाला जा रहा है जो पुलिसवालों को पैसे दे रहे हैं। इससे संपतिहा और नौतनवा के 20 किलोमीटर इलाके में जबरदस्त जाम लग गया। जाम में एक से दूसरे देश में जाने वाले सैलानी भी फंस गए।

ट्रकों की लाइन लगाकर वसूली के खेल का खुलासा हमारे सहयोगी अखबार‘हिन्दुस्तान’ ने नौ सितंबर के अंक में किया था। खबर का संज्ञान लेकर एसपी आरपी सिंह ने पहले ही सिपाहियों पर कार्रवाई कर दी है। जांच के लिए एडिशनल एसपी के नेतृत्व में टीम भी गठित की है। एडिशनल एसपी आशुतोष शुक्ला ने 10 सितंबर को सोनौली पहुंच र्मींटग की लेकिन असर कुछ खास नहीं हुआ।

पुलिस जाम में फंसे एक ट्रक को लाइन से निकालकर नेपाल भेजने के लिए 10-15 हजार की रकम वसूल रही है। पैसे लेकर वाहन को दूसरी लेन से रातों रात नेपाल सीमा में बेलहिया कस्टम तक पहुंचा दिया जा रहा है। हाल्ट से होने वाले नुकसान से बचने के लिए ऑपरेटर भी बिचौलियों से सेटिंग कर मुंहमांगी कीमत चुकता कर रहे हैं। मनमानी बढ़ने पर मंगलवार को नेपाल-भारत मैत्री समाज, भारत-नेपाल मैत्री संघ व नेपाल-भारत मानव सेवा मैत्री ने काठमांडू पहुंच भारतीय दूतावास से अवैध वसूली की शिकायत की गई है।

सीमा पर लगे जाम की वजह से माल की आपूर्ति प्रभावित हो रही है। इससे नेपाल की फैक्ट्रियां तक भी घाटे में जा रहीं हैं। व्यापारी संगठनों के अनुसार भारतीय दूतावास नेपाल एवं भारतीय ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर व विदेश मंत्रालय से शिकायत कर वाहनों से कटिंग के नाम पर धनउगाही की शिकायत की गई है। ऐसे में कटिंग का खेल बंद नहीं हुआ तो नेपाल के बड़े उद्योग भी प्रभावित होंगे।

हालात सामान्य करने की पुलिस की पहल नौतनवा से सोनौली तक बेअसर साबित हो रही है। बुधवार को भी कुंसेरवा-नौतनवां रोड पर ट्रकों की लंबी लाइन लगी रही। इस बीच दबंग ट्रकों को जबरन लाइन तोड़कर आगे करने में जुटे रहे। इसके लिए उन्होंने कुंसेरवा बाईपास से सनौली के बीच कई अवैध स्टैंड बना रखे हैं। लाइन तोड़कर ट्रकों को वहीं पार्क कराते हैं और आगे पुलिस से सिग्नल मिलते ही वाहनों को नेपाल भेज देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here