PM मोदी ने की आयुष्मान भारत योजना लॉन्च, 1,700 करोड़ रुपये की सड़क परियोजना की रखी नींव

0
84

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यहां आयुष्मान भारत योजना के तहत पहले स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन किया। वह आदर्श पंचायत के रूप में उभरी एक पंचायत में स्थित जांगला डेवलेपमेंट हब भी गए। उन्होंने नक्सल प्रभावित जिले में स्थानीय ‘चैंपियंस ऑफ चेंज’ से मुलाकात की। साथ ही 1,700 करोड़ रुपये की सड़क और पुल परियोजनाओं की भी नींव रखीं।

उन्होंने बस्तर इंटरनेट योजना के पहले चरण का भी शुभारंभ किया जिसके तहत आदिवासी क्षेत्र के सात जिलों में फाइबर ऑप्टिक्स केबल के 40,000 किलोमीटर लंबे नेटवर्क को बिछाया जाएगा। ये जिले बीजापुर, नारायणपुर, बस्तर, कांकेर, कोंडागांव, सुकमा और दंतेवाड़ा हैं।

बीजापुर जाने वाले पहले पीएम
मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जो आदिवासी जिले बीजापुर आए हैं। उन्होंने गुदुम और भानुप्रतापपुर के बीच एक नई रेल लाइन और एक यात्री ट्रेन का भी उद्घाटन किया जिससे उत्तर बस्तर क्षेत्र रेलवे के मानचित्र पर आ गया है।

प्रधानमंत्री के रूप में मोदी का छत्तीसगढ़ का यह चौथा दौरा है। छत्तीसगढ़ में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं। वह मई 2015 में दंतेवाड़ा , फरवरी 2016 में नया रायपुर और राजनंदगांव तथा नवंबर 2016 में नया रायपुर आए थे।

Image result for पीएम मोदी ने आयुष्मान भारत योजना के तहत पहले स्वास्थ्य केंद्र का किया उद्घाटन

सात जिलों में किया बैंक की शाखाओं का उद्घाटन

मोदी ने सात जिलों में बैंक की शाखाओं का भी उद्घाटन किया और भारत बीपीओ प्रोमोशन योजना के तहत विकसित ग्रामीण बीपीओ केंद्र का भी निरीक्षण किया। बस्तर इंटरनेट योजना द्वारा बीपीओ केंद्र को इंटरनेट मुहैया कराया जाता है।

1,700 करोड़ की सड़क और पुल परियोजनाओं की राखी नींव

उन्होंने 1,700 करोड़ रुपये की सड़क और पुल परियोजनाओं की भी नींव रखीं। प्रधानमंत्री संविधान निर्माता डॉ. बी आर आंबेडकर की जयंती के मौके पर राज्य का दौरा कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह और स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा भी इस मौके पर मौजूद रहे।

2022 तक 1.5 लाख स्वास्थ्य केंद्र खोलना है लक्ष्य

आयुष्मान भारत योजना के तहत सरकार का मकसद वर्ष 2022 तक 1.5 लाख स्वास्थ्य और वेलनेस केंद्र खोलना है जहां रक्त चाप, मधुमेह , कैंसर और वृद्धावस्था जनित रोगों समेत कई बीमारियों का इलाज किया जाएगा।

इस योजना के तहत सरकार ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (एनएचपीएस ) की व्यापक रूपरेखा तैयार की है और लाभार्थियों की पहचान करने के मापदंड तय करने का काम चल रहा है। मोदी ने पांच जनवरी को अधिकारियों से इन कम विकास वाले जिलों को विकसित करने में आगामी तीन महीने देने के लिए कहा था। उन्होंने कहा था कि वह इनमें से एक इलाके का दौरा करेंगे जो अच्छा प्रदर्शन करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here