रामदास अठावले की कविता पर राज्यसभा में अपनी हंसी नहीं रोक पाए PM मोदी

0
59

नई दिल्ली: संसद के मॉनसून सत्र का आज 16वां दिन है. गुरुवार को सदन में उपसभापति चुनाव के लिए वोटिंग हुई और एनडीए के प्रत्याशी हरिवंश को उपसभारति चुना गया. विपक्ष के उम्मीदवार बी के हरिप्रसाद के 105 वोटों के मुकाबले हरिवंश को 125 सांसदों का समर्थन हासिल हुआ. लेकिन इस दौरान सदन में एक मौका ऐसा भी आया जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जोर-जोर से हंसने लगे.

दरअसल हुआ यूं कि हरिवंश की जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत तमाम दलों के नेताओं ने उन्हें जीत पर बधाई दी. इसी कड़ी में आरपीआई के सांसद रामदास अठावने ने अपने ही अंदाज में हरिवंश को उपसभापति चुने जाने पर बधाई दी. उन्होंने एक कविता सुनाई और पूरा सदन ठहाकों से गूंज उठा.

रामदास अठावने ने अपने संबोधन में कहा कि हरिवंश को RPI के तरफ से देता हूं शुभेच्छा, हाउस को अच्छा चलाओ यही है इच्छा. मैं हमेशा करता रहूंगा उनका पीछा, इसलिए दे रहा हूं आपको शुभेच्छा. आगे अठावने ने कहा, ‘मोदी जी ने हरिवंश को दे दिया है मौका, लेकिन हरिप्रसाद को कांग्रेस ने दे दिया है धोखा.’

इस कविता के बाद प्रधानमंत्री मोदी समेत तमाम दलों के सांसद जोर-जोर से हंसने लगे और मेज ठप-ठपाकर अठावले की सराहना की. लेकिन आगे भी अठावने की कविता जारी रही. उन्होंने कहा, ‘इस चुनाव में दोनों ही थे हरि, हार गया प्रसाद हरि, चुनकर आ गया वंश हरि.’

आरपीआई सांसद ने कहा कि आप चुनकर आ गए हैं. मैं हमेशा चेयरमैन साहब से डरता हूं, इसीलिए आपका समर्थन करता हूं. उन्होंने कहा कि दलित समाज और अपनी पार्टी की ओर से आपको बधाई देता हूं.

हरि कृपा बनी रहेगी: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जेडीयू सांसद हरिवंश को जीत पर बधाई दी. पीएम मोदी ने कहा कि आज अगस्त क्रांति दिवस और इसमें बलिया का अहम योगदान रहा है और हरिवंश भी उसी भूमि से आते हैं. पीएम ने कहा कि चकाचौंध को छोड़कर हरिवंश ने सादा जीवन जिया है, और उन्हें पत्रकारिता के मजबूत लोगों के साथ काम करने का अनुभव है.

पीएम ने कहा कि सांसद के तौर पर आपका कार्यकाल सफल रहा है लेकिन इस सदन में सभी को नियमों में खेलने के लिए मजबूर करना हैं. उन्होंने कहा कि उच्च सदन में खिलाड़ियों से ज्यादा अंपायर परेशान रहते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि इस चुनाव में दोनों तरफ हरि थे और मेरा मानना है कि अब सदन में हरि कृपा बनी रहेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here