‘आतंक पर पाक को उसी की भाषा में जवाब मिला’

0
89

ग्रेटर नोएडा: पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाक के बालाकोट में भारतीय एयर स्ट्राइक का सबूत मांगने वालों पर पीएम मोदी ने आज जमकर निशाना साधा। पीएम ने पाकिस्तान और आतंक पर सिलसिलेवार हमला करते हुए ‘टुकड़े गैंग’ को भी आड़े हाथों लिया। पीएम ने कहा कि जिस समय पाकिस्तान भारतीय एयर स्ट्राइक से परेशान था उस समय ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ के लोग इस बात पर चर्चा कर रहे थे कि यह कौन सा बालाकोट है? उन्होंने कहा कि जब एक समय पाकिस्तान कह रहा था ‘मोदी न मारा’ तब यहां सवाल पूछे जा रहे थे।

पीएम मोदी ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि 2016 में पहली बार हमारी सरकार ने आतंक के आकाओं को उस भाषा में जवाब दिया, जिसमें वह समझते हैं। पीएम ने कहा, ‘उरी के बाद हमने सर्जिकल स्ट्राइक की तो ये लोग सबूत मांग रहे थे। अब पुलवामा हमला हुआ। भारत के वीरों ने जो काम किया, वैसा काम दशकों तक नहीं हुआ है। हमारे वीरों ने आतंकियों को घर में घुसकर मारा है। आतंकियों को भारत से ऐसे जवाब की उम्मीद नहीं थी। पाकिस्तान जमीन पर टैंक तैनात किए हुए था। हम ऊपर से चले गए। हम तो यह सब करके चुप थे, लेकिन यह घटना इतनी बड़ी थी कि रात के साढ़े तीन बजे पाकिस्तान की नींद उड़ गई। पाकिस्तान ऐसा घबरा गया कि उसने सुबह पांच बजे ट्वीट करना शुरू कर दिया।’

पीएम ने कहा, ‘देश के दुश्मनों में भारत के प्रति जो सोच बनी थी, उसका कारण 2014 के पहले की सरकारों का रैवया था। 26/11 की घटना को भुलाया नहीं जा सकता। उस वक्त आतंक के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए थी, लेकिन सरकार ने कुछ नहीं किया। उस समय सेना का खून गरम था, लेकिन दिल्ली ठंडे बस्ते में थी। यहीं वजह थी कि मुंबई हमले के बाद भी देश में कई बार धमाके हुए। पहले की सरकार ने नीतियां नहीं बदली, सिर्फ गृह मंत्री बदले।’

पीएम मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों ने आतंक को उसी भाषा में समझाया होता तो आंतक नासूर न बना होता। हमारी कार्रवाई के बाद आतंक के आकाओं को समझ आ गया है कि यह पहले वाला भारत नहीं है।

पीएम ने विपक्षी पार्टियों पर हमला बोलते हुए कहा, ‘आज देश के भीतर अपनेआप को बड़ा नेता मानने वाले लोग जो भाषा बोल रहे हैं, उससे देश के दुश्मनों को ताकत मिल रही है। देश के जवान के पराक्रम पर सवाल उठा रहे हैं और उस पर पड़ोस में तालिया पड़ती हैं। टुकड़े-टुकड़े गैंग की चाल ऐसी है कि एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान तो परेशान था, लेकिन ये लोग सिर्फ इसी बात पर चर्चा कर रहे थे कि यह भारत का बालाकोट है या पाकिस्तान का बालाकोट है? ऐसे लोगों की बातों पर भरोसा मत करिए।’

‘पहले घोटालों के लिए होता था नोएडा का जिक्र’
पीएम ने कहा, ‘वे भी दिन थे, जब नोएडा-ग्रेटर नोएडा की पहचान सरकारी धन की लूट, जमीन आवंटन के घोटालों के लिए होती थी। जब भी नोएडा की बात आती थी, तो ऐसी ही खबरें दिखती हैं। आज नोएडा-ग्रेटर नोएडा की पहचान विकास से है। नोएडा आज मेक इन इंडिया के बड़े हब के तौर पर विकसित हो रहा है। भारत मोबइल बनाने में दूसरे नंबर पर है, उसमें नोएडा की भूमिका है। 2014 से पहले मोबाइल बनाने वाली सिर्फ 2 फैक्ट्रियां थी। आज करीब 125 फैक्ट्रियां हैं। इसमें बड़ी संख्या में फैक्ट्रियां नोएडा में हैं। मोबाइल के अलावा कई इलेक्ट्रॉनिक आइटम की अनेक कंपनियां यहां पर हैं। इन सब ने लाखों युवाओं को रोजगार दिया।’

देश का सबसे बड़ा हवाई अड्डा जेवर में
पीएम ने कहा कि जेवर में देश का सबसे बड़ा हाई अड्डा बनने जा रहा है। इससे जुड़ी तमाम प्रक्रियाओं को पूरा किया जा रहा है। इससे नोएडा की एयर कनेक्टिविटी दूसरे शहरों से जुड़ जाएगी और दिल्ली जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह पश्चिम यूपी के लिए स्वर्णिम अवसर लेकर आएगा। अगले कुछ हफ्तों में बरेली से भी उड़ाने शुरू होंगी। इसके लिए टर्मिनल बिल्डिंग का काम लगभग पूरा हो चुका है। देश के टीयर 2 और टीयर 3 शहर भी एयर कनेक्टिविटी से जुड़ेंगे।’

पावर सेक्टर को किया नजरअंदाज
पीएमने कहा कि पूर्व की सरकारों ने देश में पावर सेक्टर को जिस तरह नजरअंदाज किया, इसका एक उदाहरण कल ही नजर आया। कल कानपुर में पनकी पावर प्रॉजेक्ट के विस्तार का काम शुरू हुआ है। आपको हैरानी होगी कि पनकी में 40-50 साल पुरानी मशीनों से काम लिया जा रहा था। मशीनों की हालत भी कांग्रेस जैसी हो गई थी।