उड़ीसा: राज्यपाल ने भगवान श्रीकृष्ण से की पीएम मोदी की तुलना

0
55

हिसार: हाल ही में उड़ीसा के राज्यपाल बने प्रोफेसर गणेशी लाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना भगवान श्रीकृष्ण से की है। साथ ही गणेशी लाल ने कहा कि उन्होंने ऐसा कह कर कोई गलती नहीं की न ही कोई अपराध किया है।

राज्यपाल हरियाणा के अग्रोहा में आयोजित सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। प्रोटोकॉल से बेपरवाह प्रोफेसर गणेशी लाल ने कहा कि मुझे ऐसा कहने में कोई आपत्ति नहीं है कि जैसे गोवर्धन पर्वत को उंगली पर उठा कर भगवान श्रीकृष्ण ने खड़ा किया था। ऐसे ही अग्रोहा के विचार को अगर कोई आज विश्व में खड़ा करना चाह रहा है तो वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है।

गर्वनरशिप खोने का नहीं डर- राज्यपाल

राज्यपाल ने कहा कि ‘मुझे लोग बोलते है कि मैं ऐसे ना बोला करूं अन्यथा गर्वनरशिप से निकाल देंगे। उन्होंने कहा, निकाल देंगे तो क्या फर्क पड़ता है। जो सत्य है उसे कैसे छुपाए। कौन अपराधी है, गलती क्या है, दोष क्या है। हम सब लोग विश्व की वैश्विक व्यथाएं है। जिन्हें तकलीफे हैं, जो त्रस्त हैं, अपमानित हैं, उपेक्षित हैं और जो मानवता पीड़ित है, आइए उसको सुगंध से भर दें।’

पहली बार शायराना अंदाज

राज्यपाल बनने के बाद पहली बार अग्रोहा पहुंचे गणेशी लाल शायराना अंदाज में जनता से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा ‘जर्रे से आफताब बना दिया आपने, फर्श से अर्श पर पहुंचा दिया आपने, मिट्टी के कण को सितारा बना दिया आपने, फकीर को बादशाह बना दिया आपने, लेकिन मैं फकीर ही रहूंगा।’

अध्यात्म की बात

प्रोफेसर गणेशी लाल ने कहा कि जिस संस्कार से आपने पाला है उसमें एक ही शब्द है कि सब और सर्व के बीच में कोई सेतू नहीं होना चाहिए। राज्यपाल ने अध्यात्म की भी बात की। उन्होंने कहा कि मैं और विश्व के बीच में कोई दिवार नहीं होनी चाहिए।

‘एक तत्व है, विचार है, एकात्मकता है’

महाराजा अग्रसैन ने यहीं तो किया है। एक तत्व है, विचार है, एकात्मकता है। समन्यवादी संस्कृति का है। आज का सबसे बड़ा विज्ञान क्वांटम मैकेनिक्स भी वैदिकता से परे नहीं है। अग्रोहा का विचार यहीं है कि मैं नहीं तू ही है। हम है तो विश्व है। हम नहीं तो फिर विश्व भी नहीं है।

विपक्ष को बीजेपी को घेरने का मौका

बहरहाल उड़ीसा के राज्यपाल की इस तुलना से जहां एक तरफ बीजेपी के लोग गदगद होंगे वहीं कांग्रेस के नेताओं को एक और मौका मिल गया है भाजपा को घेरने के लिए। राहुल गांधी समेत कांग्रेस के दिग्गज नेता राज्यपाल की इस टिप्पणी पर क्या रिएक्शन देंगे ये देखने वाली बात होगी कि ये राज्यपाल हैं या कोई महापुरोहित!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here