इस्कॉन मंदिर में पूजा कर बोलीं नुसरत जहां- मैं पैदाइशी मुसलमान, लेकिन हर धर्म का सम्मान

0
75

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कोलकाता के इस्कॉन मंदिर में पूजा अर्चना की. यहां ममता बनर्जी के साथ बंगाली एक्ट्रेस और TMC सांसद नुसरत जहां भी पहुंचीं. देश के कई हिस्सों में आज जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली गई, कोलकाता में भी ये यात्रा निकल रही है. आयोजकों ने नुसरत जहां को बतौर मुख्य अतिथि यहां आमंत्रित किया है.

नुसरत जहां यहां अपने पति निखिल जैन के साथ पहुंचीं. CM ममता बनर्जी के साथ नुसरत जहां ने भी पंडाल में पूजा-अर्चना की. नुसरत जहां पश्चिम बंगाल की बसीरहाट लोकसभा सीट से TMC सांसद हैं. नुसरत जहां ने इस दौरान विवाद पर जवाब भी दिया. नुसरत जहां ने कहा कि वह पैदाइशी मुसलमान हैं और इस्लाम में विश्वास रखती हैं. लेकिन उन्होंने ये भी कहा कि वह हर धर्म का सम्मान करती हैं.

इस्कॉन मंदिर में पूजा अर्चना करने से पहले ममता बनर्जी ने ट्विटर पर रथयात्रा की बधाई दी थी. ‘रथयात्रा के शुभ अवसर पर सभी को हार्दिक बधाई. जय जगन्नाथ.’

आपको बता दें कि नुसरत जहां ने हाल ही में न‍िखिल जैन से शादी की है. उनकी शादी काफी विवादों में रही थी, क्योंकि वह खुद मुस्लिम हैं और उन्होंने जैन रीति रिवाज के साथ शादी की थी. इसके अलावा जब वह सांसद चुने जाने के बाद संसद में शपथ लेने पहुंचीं तब भी काफी सुर्खियां बटोरीं.

नुसरत जहां लाल चूड़ा डाल, माथे पर सिंदूर लगा संसद में शपथ लेने पहुंची थीं. उन्होंने तो सद्भावना का संदेश दिया लेकिन कुछ लोगों को ये पसंद नहीं आया था. कुछ मौलवियों ने नुसरत जहां के खिलाफ फतवा जारी किया था, लेकिन उन्होंने इस बात का भी मुंहतोड़ जवाब दिया था. नुसरत जहां ने कहा था कि वह हर धर्म का सम्मान करती हैं.

गौरतलब है कि बंगाल में लोकसभा चुनाव के वक्त से ही धर्म को लेकर राजनीति काफी तेज हो गई है. एक तरफ जहां ममता बनर्जी भारतीय जनता पार्टी पर हिंदू तुष्टिकरण का आरोप लगा रही हैं तो वहीं बीजेपी ममता बनर्जी पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगा रही है. कई बार राज्य में जय श्री राम के नारों को लेकर भी विवाद हो चुका है.