मुजफ्फरपुर कांड : 12 घंटे पूछताछ के बाद CBI ने ब्रजेश ठाकुर के बेटे राहुल को छोड़ा

0
56

मुजफ्फरपुर : बालिका गृह यौन उत्पीड़न कांड में सीबीआई व सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लेबोरेट्री (सीएफएसएल) की टीम ने आरोपी ब्रजेश ठाकुर के बेटे राहुल आनंद को पूछताछ के बाद छोड़ दिया है। ब्रजेश के बेटे को टीम ने शनिवार को हिरासत में लिया था जिसके बाद उससे घंटों सवाल-जवाब हुए थे।

इस कांड में सीबीआई की हिरासत में लिया जाने वाला राहुल पहला व्यक्ति है। शनिवार को जांच के लिए बिहार स्थित मुजफ्फरपुर बालिका गृह पहुंची थी। डीआईजी अभय कुमार के नेतृत्व में विशेष टीम ने मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में बालिका गृह के कमरों को खोला और चप्पा-चप्पा खंगाला।

बालिका गृह के चप्पे-चप्पे को खंगाला-

दुष्कर्म कांड में सीबीआई और सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लेबोरेट्री (सीएफएसएल) की टीम ने बालिका गृह परिसर की खोदाई के लिए एक जेसीबी भी मंगाई गई थी, लेकिन जांच में देरी के कारण खोदाई नहीं हो सकी। टीम ने वहां से सौ से अधिक फाइलों को जब्त किया।

प्रेस कार्यालय में भी हुई जांच-Image result for मुजफ्फरपुर केस : ब्रजेश के बेटे से पूछताछ के बाद सीबीआई ने छोड़ासीएफएसएल टीम ने ब्रजेश के पारिवारिक अखबार के प्रेस कार्यालय की घंटों जांच की। वहां से कई नमूने साक्ष्य के तौर पर एकत्र किए। कार्यालय के पीछे से खुलने वाले दरवाजे को भी देखा।

मार्कर और इंच-टेप से लगाया निशान-
टीम ने बालिका गृह के सभी कमरों को बारीकी से खंगाला। दो भवनों के बीच बनी सीढ़ियों को देखकर टीम अचंभित रह गई। मुख्य प्रवेश द्वार, ऊपर जाने वाली सीढ़ियों समेत छोटे-बड़े दरवाजे की लंबाई-चौड़ाई का भी जायजा लिया। इससे पूर्व टीम ने मार्कर और इंच-टेप से दरवाजे और कमरे की माप ली और कई जगहों पर निशान लगाए।Image result for मुजफ्फरपुर केस : ब्रजेश के बेटे से पूछताछ के बाद सीबीआई ने छोड़ाबिहार एड्स कंट्रोल सोसाइटी ने एनजीओ को काली सूची में डाला-
बिहार एड्स कंट्रोल सोसाइटी ने भी बालगृह दुष्कर्म कांड के मुख्य आरोपित ब्रजेश ठाकुर की स्वयंसेवी संस्था (एनजीओ) सेवा संकल्प एवं विकास समिति को काली सूची में डाल दिया है। समस्तीपुर एवं दरभंगा के लिए मिले इसके प्रोजेक्ट भी रद कर दिए गए हैं। इस आशय की अधिसूचना शनिवार को जारी कर दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here