गुजरात में बस हाईजैक कर हवाला कर्मचारियों से 1 करोड़ से ज्यादा की लूट

0
103

अहमदाबाद। उत्तर गुजरात में राज्य परिवहन निगम की बस को तमंचे की नोंक पर हाईजैक कर हीरा व हवाला कारोबार से जुड़े तीन कर्मचारियों से एक करोड़ के हीरे, नकदी तथा सोना-चांदी लेकर फरार हो गए। पुलिस को लूटेरों के बारे में फिलहाल कोई सबूत हाथ नहीं लगा लेकिन इस वारदात के लिए उपयोग में ली गई कार लावारिस हालत में बरामद की गई है।

शुक्रवार शाम को मेहसाणा से गुजरात एसटी निगम की बस रवाना हुई जिसमें अहमदाबाद के हीरा व हवाला कारोबार से जुडे़ तीन कर्मचारी यात्रा कर रहे थे, इनका पीछा करते हुए अगले स्टेशन से 9 लुटेरे इस बस में सवार हुए। नंदासण गांव व वाटर पार्क के बीच एक लुटेरे ने बस ड्राइवर की कनपटी पर रिवॉल्वर लगाकर बस को एक तरफ खड़ा करने को कहा।

उसके बाद बस की लाइट बंद कराकर लूटेरों ने धारदार हथियारों की नोंक पर हीरा व हवाला कारोबार से जुडे कर्मचारियों से हीरा, सोना, चांदी व करीब दस लाख की नकदी लूट ली। प्रारंभिक अनुमान लगाया जा रहा है कि लुटेरे करीब एक करोड़ के हीरा, नकदी व सोना चांदी ले गए हैं।

गौरतलब है कि राज्य में आंगडिया मतलब अवैध हवाला कारोबार चलता है जिसमें एक दिन में व्यापारियों के बीच करोड़ों का लेन-देने होता है। लूट कर ले जाई गई नकदी और अधिक की हो सकती है चूंकि लुटेरे पांच थैले लूटकर ले गए हैं जिनमें नकदी तथा हीरे, सोना व चांदी भरे थे।

बताया जा रहा है कि तीनों कर्मचारी प्रवीण,जयंती सोमा व अंबालाल डीसा से इस बस में सवार हुए थे, वे नियमित रूप से कारोबार के लिए नकदी, हीरा व सोना चांदी लेकर निकलते थे, इस बात की लूटेरों को पूरी जानकारी थी। बस का नंबर जीजे 18, जेड 4335 है जबकि लूटेरों के उपयोग में ली गई कार का नंबर जीजे 18 बीए 5087 है, दोनों एक ही आरटीओ ऑफिस गांधीनगर में पंजीकृत हैं।

ऊंझा के व्यापारी विष्णु भाई पटेल ने लूट की शिकायत दर्ज कराई है, इस वारदात को उन्होंने पूरी तरह फिल्मी तरीके से अंजाम देकर साथ लाए एसयूवी कार से फरार हो गए जो शुक्रवार दोपहर खेरालू गांव के पास लावारिस हालत में मिली है। लाघजण पुलिस थाना इलाके में हुई इस वारदात का कोई ठोस सुराग पुलिस अभी तक नहीं खोज पाई है। लुटेरों की उम्र 25 से 30 के बीच बताई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here