MeToo पर पहली बार बोले शाह, एम जे अकबर के खिलाफ लगे आरोपों की होनी चाहिए जांच

0
88

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री और विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर पर यौन शोषण के आरोपों का मामला थमता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है। अब भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का कहना है कि विदेश राज्यमंत्री पर लगे आरोपों की जांच होनी चाहिए। उन्होंने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में ये बात कही। शाह के बयान को इसलिए भी अहम माना जा रहा है कि मी टू मुहिम के बाद एमजे अकबर पर बीजेपी आलाकमान की तरफ से यह पहली प्रतिक्रिया है।

Image result for MeToo पर पहली बार बोले शाह, एम जे अकबर के खिलाफ लगे आरोपों की होनी चाहिए जांच

अमित शाह ने ये भी कहा कि इस मामले की सत्यता की भी जांच करनी पड़ेगी। हमें उस पोस्ट की भी जांच करनी होगी, साथ ही उस व्यक्ति की भी जिसने इसे पोस्ट किया है। शाह ने आगे कहा कि आप भी मेरे नाम का इस्तेमाल करके कुछ भी पोस्ट कर सकते हैं, तो मुझे लगता है कि इसकी सत्यता की जांच होनी चाहिए।

आपको बता दें कि मी टू अभियान के तहत अकबर पर कई महिला पत्रकारों ने दुर्व्यवहार करने के आरोप लगाए हैं। महिलाओं का कहना है कि विभिन्न संस्थानों में संपादक रहते हुए उन्होंने उनका यौन शोषण किया था। इससे एक बात तो साफ हो गई है कि पार्टी अपने मंत्री पर लगे आरोपों को लेकर गंभीर है।