मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में 11 साल बाद आज आएगा कोर्ट का फैसला

0
149

नई दिल्ली। हैदराबाद की मक्का मस्जिद में हुए ब्लास्ट पर आज फैसला आ सकता है। केस के आरोपी असीमानंद भी हैदराबाद की नामपल्ली कोर्ट पहुंच चुके हैं। 11 साल बाद आज NIA कोर्ट इस मामले में फैसला सुना सकता है। बता दें कि 2007 को मक्का मस्जिद में हुए ब्लास्ट में 9 लोगों की मौत गई थी और 58 लोग घायल हुए थए। इसमें 10 आरोपी थे जिनमे से आठ के खलिफा चार्जशीट दाखिल की गई है। जिसमें स्वामी असीमानंद का नाम भी शामिल है। जिन 8 लोगों के खिलाफ चार्जशीट बनाई गई थी उसमें से स्वामी असीमानंद और भारत मोहनलाल रत्नेश्वर उर्फ भरत भाई जमानत पर बाहर हैं और तीन लोग जेल में बंद हैं।

मक्का मस्जिद मामले में सीबीआई ने सबसे पहले 2010 में आसीमानंद को गिफ्तार किया था लेकिन 2017 में उन्हें जमानत मिल गई थी। इस केस के एक आरोपी सुनील जोशी की जांच के दौरान कर दी गई थी और दो और आरोपियों संदीप वी डांगे, रामचंद्र कलसंग्रा के बारे में मीडिया रिपोर्टस में दावा किया गया है कि उनकी भी हत्या कर दी गई है। इससे पहले एनआईए मामलों की चतुर्थ अतिरिक्त मेट्रोपोलिटन सत्र सह विशेष अदालत ने सुनवाई पूरी कर ली है और पिछले हफ्ते फैसले की सुनवाई आज तक के लिए टाल दी थी।

गौरतलब है कि 18 मई 2007 को दोपहर 1 के आसपास मस्जिद में धामाका हुआ था जिसमें 5 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी और 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे, बाद में इन चारों की भी मौत हो गई। बाद में इस मामले को सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया था लेकिन फिर यह मामला NIA के पास चला गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here