जानें, मच्छरों के काटने के बाद क्यों होती है खुजली

0
177

नई दिल्ली। वातावरण में कुछ ही मच्छर ऐसे हैं, जिनके काटने से बीमारी होती है। लेकिन सामान्य मच्छरों के काटने से भी व्यक्ति को खुजली होने लगती है। जो कि काफी पीड़ादायक होती है। मच्छरों से आखिर क्यों खुजली होती है। ये हमारा खून क्यों चूसते हैं, आज हम इन्हीं कुछ बातों की जानकारी आपको दे रहे हैं।

क्यों होती है खुजली
दरअसल मच्छर अपनी सूंड या डंग की सहायता से काटता है, जिसकी वजह से स्किन में छेद हो जाता है और रक्त वाहिका प्रभावित होती है। अच्छे से खून चूस सके और उनकी खून का थक्का ना जमे, इसलिए वो शरीर में कुछ लार छोड़ते है।  इसके प्रवेश करने पर इंसान के शरीर पर खुजली होती है और वो जगह लाल हो जाती है। ऐसा कहा जा सकता है कि मच्छर के काटने से जो खुजली होती है उसके पीछे मच्छर की लार में मौजूद रसायन के कारण होती है।

मादा मच्छर चूसती है खून
केवल मादा मच्छर ही इंसानों का खून चूसती है और नर मच्छर ऐसा नहीं करते हैं। मादा मच्छर अंडों की वजह से खून चूसती है, क्योंकि उन्हें इसकी आवश्यकता होती है। दुनिया भर में मच्छरों की करीब 3 हजार 500 प्रजातियां पाई जाती हैं। लेकिन इनमें से ज्यादातर नस्लें इसानों को बिल्कुल परेशान नहीं करतीं। ये वो मच्छर हैं जो सिर्फ फलों और पौधों के रस पर जिंदा रहते हैं।

दो महीने की जिंदगी
अगर मच्छरों की जिंदगी की बात करें तो मच्छर 2 महीने से ज्यादा दिन तक जीवित नहीं रह पाते हैं। वहीं मादा मच्छर, नर मच्छर के मुकाबले काफी ज्यादा दिनों तक जीता है। अगर नर मच्छरों की लाइफ के बारे में बात करें तो वो दिन ही जीवित रह पाते हैं और मादा मच्छर 6 से 8 हफ्तों तक जिंदा रहता है। दरअसल मादा मच्छर हर तीन दिन में अंडे देते हैं और मादा मच्छर करीब 2 महीने तक जीवित रह सकते हैं।