कठुआ केस: जम्मू बार एसोसिएशन अध्यक्ष ने दी बंदूक उठाने की धमकी, जानिए पूरा मामला

0
68

जम्मू : देश की राजनीति में हलचल पैदा करने वाले कठुआ गैंगरेप मामले में जम्मू बार एसोशिएसन की भूमिका विवादों में है। इस मामले में एक नया मोड़ आ गया है। जम्मू बार एसोशिएसन के अध्यक्ष बीएस सलाथिया 11 अप्रैल को जम्मू बंद के दौरान लोगों को भड़काते हुए कैमरे में कैद हुए हैं। बंद के दौरान सलाथिया राज्य सरकार को धमकी दे रहे हैं कि लोग उसके खिलाफ बन्दूक और बम भी उठा सकते हैं। बंद के दौरान सलाथिया लोगों को इस मांग पर संबोधित कर रहे हैं कि आसिफा केस क्राइम ब्रांच से वापस ले लिया जाए।

अवैध शरणार्थियों को बाहर निकलने की मांग

इसके अलावा सलाथिया जम्मू से रोहिंग्या और अवैध तरीके से रह रहे शरणार्थियों को निकालने की मांग कर रहे हैं। सलाथिया ने कथित रूप से आसिफा की वकील को भी केस लड़ने को लेकर धमकाया। लोगों को भड़काने से संबंधित सलाथिया के बयान पर जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद्य ने कहा कि ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि वे बन्दूक और बम की बात कर रहे हैं। हम इस मामले को देखेंगे। कठुआ की घटना बहुत ही वीभत्स है। इससे वीभत्स कुछ नहीं हो सकता है। एसआईटी ने बहुत प्रोफेशनल तरीके से काम किया है और चार्जशीट दाखिल किया है। हम उम्मीद करते हैं, मामले में न्याय होगा।

क्या है मामला

कठुआ जिले में जनवरी में आठ साल की एक बच्ची को कुछ लोगों ने एक गांव के मंदिर में एक सप्ताह तक बंदी बनाकर भूखे-प्यासे रखा, नशे की गोलियां खिलाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म करते रहे, बाद में पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या कर दी थी। यह कुकृत्य दूसरे संप्रदाय के लोगों को सबक सिखाने की नीयत से किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here