कर्नाटक : संकट में कांग्रेस-जेडीएस सरकार, 10 विधायक बीजेपी के संपर्क में

0
231

नई दिल्ली : कर्नाटक में एक बार फिर राजनीतिक हलचल तेज हो गई है. सत्तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस ने विपक्षी पार्टी बीजेपी पर विधायकों को तोड़ने का आरोप लगाया है और इसे ‘ऑपरेशन लोटस’ का नाम दिया है. वहीं बीजेपी का कहना है कि सत्तारूढ़ दल के विधायक खुद नेतृत्व से नाराज हैं और पार्टी उसपर अनाप-शनाप आरोप लगा रही है.

ये विधायक है बीजेपी के संपर्क में

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस और जेडीएस के 10 विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं. कांग्रेस विधायक आनंद सिंह, बी नागेन्द्रा, उमेश जाधव, बीसी पाटिल मुम्बई पहुंच गए हैं. जबकि रमेश जारकीहोली, निर्दलीय आर शंकर आज मुम्बई पहुंच सकते हैं. इसके अलावा कांग्रेस, जेडीएस और निर्दलीय विधायक भी बीजेपी के संपर्क में हैं.

कल कांग्रेस नेता और पार्टी के लिए संकटमोचक माने जाने वाले डीके शिवकुमार ने कहा था, ‘‘राज्य में विधायकों की खरीद फरोख्त जारी है. हमारे तीन विधायक बीजेपी के कुछ विधायकों और नेताओं के साथ मुंबई के एक होटल में हैं. वहां क्या कुछ हुआ है उन्हें कितनी रकम की पेशकश की गई है, उससे हम अवगत हैं.’’

बैठकों का दौर

सियासी हलचल के बीच बीजेपी और कांग्रेस दोनों खेमों में बैठकें हो रही है. बेंगलुरू में आज कांग्रेस नेताओं की बैठक हुई. बैठक के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जी परमेश्वरा ने कहा कि बैठक आगामी बजट को लेकर बुलाई गई थी. हालांकि, उन्होंने कहा, ”बीजेपी के नेता कह रहे हैं कि सरकार गिर जाएगी.

लेकिन ऐसा नहीं होगा. कुछ विधायक छुट्टियां मनाने गए हैं. किसी ने नहीं कहा है कि वे बीजेपी में शामिल होने जा रहे हैं और सरकार को अस्थितर करने जा रहे हैं. हमारे सभी विधायक पार्टी के साथ हैं.”