जेईई एडवांस के कट ऑफ में हुआ बदलाव, इतना कम होगा कट ऑफ, 15 हजार छात्रों को होगा लाभ

0
217

नई दिल्ली : जेईई एडवांस 2018 के कट ऑफ में बदलाव किया जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने बुधवार की देर रात परीक्षा आयोजक आईआईटी कानपुर को इस बाबत निर्देश जारी किया है। मंत्रालय ने फिर से कट ऑफ नीचे गिराकर फेल हो गए छात्रों को भी क्वालीफाई कराने के लिए कहा है।

इस बार का सामान्य कट ऑफ 126 अंक था

बता दें कि इस बार का सामान्य कट ऑफ 126 अंक गया था। जिसे अब बदलकर 90 कर दिया जाएगा। इसी तरह ओबीसी नान क्रीमि लेयर का कट ऑफ 114 से करीब 70, एससी-एसटी का कट ऑफ 63 से 30 तक कर दिया जाएगा। इस दायरे में करीब 15 हजार छात्र आ रहे हैं।

जेईई के इतिहास में पहली बार होगा ऐसा

जेईई के इतिहास में यह पहली बार होगा कि परिणाम जारी होने के बाद फिर से संशोधित कट ऑफ जारी किया जा रहा है। बताया जाता है कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय को डर है कि कहीं आईआईटी की सीटें खाली न रह जाए।

मंत्रालय ने बनाया दबाव

हालांकि आईआईटी ज्वाइंट एडमिशन बोर्ड (जैब) ने एक दिन पहले ही कट ऑफ रिवाइज्ड करने से साफ इंकार कर दिया था। इसके बावजूद मंत्रालय ने दबाव बनाकर कट ऑफ रिवाइज करने का आदेश दे दिया।

जेईई एडवांस के चेयरमैन प्रो. शलभ कुमार के मुताबिक सामान्य कट ऑफ 126 अंक से 90 तक पहुंच जाएगा। इसी तरह से अन्य कैटेगरी में भी बदलाव किया जाएगा।