महागठबंधन पर जेटली का तंज, ‘डर कर हुए एक’

0
69

नई दिल्ली: यूपी में एसपी-बीएसपी महागठबंधन के ऐलान के कुछ ही मिनटों बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने महागठबंधन पर जमकर हमला होला। जेटली ने बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में कहा कि मोदी से डरकर सभी नेता एक हो रहे हैं, लेकिन जनता डरकर साथ आए ऐसे गठजोड़ों को स्वीकार नहीं करेगी। वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि बीजेपी के पास नेतृत्व और संगठन के साथ सहयोगी दल भी हैं।

वित्त मंत्री ने महागठबंधन पर जमकर हमला बोलेते हुए कहा, ‘स्वार्थ के लिए किए गठजोड़ कुछ ही समय के लिए होते हैं। ऐसे महागठबंधनों से हमें डरने की कोई जरूरत नहीं है। मोदी के नेतृत्व के सामने कोई नहीं टिक सकता चाहे वह कांग्रेस का शहजादा हों, बंगाल में दीदी हों, आंध्र प्रदेश में बाबू हों या फिर यूपी में बहनजी हों सबके दिल में इच्छा है। चुनाव के बाद ही इनकी तलवारें निकलेंगी।’ उन्होंने यह भी कहा कि डरकर साथ आए इन गठजोड़ों की उम्र कुछेक महीने से अधिक की नहीं होती है।

वित्त मंत्री ने बीजेपी के साथ सहयोगियों की बढ़ती संख्या का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘पिछली बार एनडीए में 24 सहयोगी दल थे इस बार यह बढ़कर 35 है। हम जनता को यह बात समझाएंगे कि जिसको वो अपना लाभ (महागठबंधन) समझते हैं वह उनका कैसे नुकसान करती है। हमें जनता के सामने इस बात को प्रभावी तरीके से रखने की जरूरत है।’

पिछले बार की तुलना में इस बार बीजेपी की सीटें बढ़ने का दावा करते हुए वित्त मंभत्री ने कहा कि आज देश में हर जगह उत्साह का माहौल है। भारत विश्व की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है। वित्त मंत्री ने कहा, ‘हमारे पास राष्ट्रीय अध्यक्ष का नेतृत्व है और संगठन भी है। पिछली बार 282 सीटें आई थीं और इस बार उस आंकड़े को भी पार करेंगे। दुनिया में तेजी से आगे बढ़नेवाली अर्थव्यवस्था हमारी है। यह उम्मीदों से भरा समाज है और इस प्रकार के डरावने गठजोड़ों को कोई समाज स्वीकार करने तैयार नहीं होगा।’