INDvsENG: रोहित-कुलदीप ने भारत को पहले वनडे में दिलाई धमाकेदार जीत

0
73

रोहित शर्मा के नाबाद शतक (137) की मदद से भारत ने गुरुवार को पहले अंतरराष्ट्रीय वनडे में इंग्लैंड को 8 विकेट से हरा दिया। कुलदीप की वर्ल्ड रिकॉर्ड गेंदबाजी (25/6) के सामने इंग्लैंड की पारी 49.5 ओवरों में 268 रनों पर सिमटी। इसके जवाब में भारत ने 40.1 ओवरों में 2 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया। भारत ने इसी के साथ तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई। दूसरा मैच शनिवार को खेला जाएगा।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत को धवन ने तेज शुरुआत दिलाई। लय में नजर आ रहे धवन ने कई आक्रामक शॉट्‍स खेले। वे 27 गेंदों में 8 चौकों की मदद से 40 रन बनाने के बाद मोईन के शिकार बने। 59 रनों पर पहला विकेट गंवाने के बाद रोहित को विराट का साथ मिला और उन्होंने पारी को मजबूती प्रदान की। रोहित ने स्टोक्स की गेंद पर चौका लगाकर फिफ्टी पूरी की। यह उनका वनडे में 35वां अर्द्धशतक है। कोहली ने मार्क वुड की गेंद पर चौका लगाकर फिफ्टी पूरी की। इसी के साथ इन दोनों के बीच शतकीय भागीदारी पूरी हुई।

रोहित ने आदिल रशीद की गेंद पर छक्का लगाते हुए शतक पूरा किया। वे 82 गेंदों में 12 चौकों और 3 छक्कों की मदद से शतक तक पहुंचे। यह उनका 18वां वनडे शतक है। विराट 75 रन बनाकर रशीद की गेंद पर विकेटकीपर बटलर द्वारा स्टंप किए गए। उन्होंने दूसरे विकेट के लिए रोहित के साथ 167 रन जोड़े। रोहित 114 गेंदों में 15 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 137 तथा राहुल 9 रन बनाकर नाबाद रहे।

भारत ने पहले वनडे में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। रॉय और बेयरस्टो ने इंग्लैंड को आक्रामक शुरुआत दिलाई। रॉय जब 7 रनों पर थे तब भाग्यशाली रहे कि उमेश यादव ने अपनी गेंद पर उनका रिटर्न कैच छोड़ा। कुलदीप ने मजबूत होती इंग्लैंड की साझेदारी को तोड़ा जब उन्होंने जेसन रॉय (38) को पैवेलियन लौटाया। वे रिवर्स स्विप करने के प्रयास में कवर्स पर उमेश यादव को कैच दे बैठे। उन्होंने बेयरस्टो के साथ 73 रन जोड़े। जो रूट3 रन बनाने के बाद पीछे जाकर खेलने के चक्कर में कुलदीप की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हुए। अब उम्मीदें बेयरस्टो पर टिक गई थी, लेकिन कुलदीप ने उन्हें इसी ओवर में एलबीडब्ल्यू कर मेजबान टीम को करारा झटका दिया। अंपायर ने बेयरस्टो को आउट नहीं दिया था, लेकिन भारत ने रिव्यू लिया जिस पर थर्ड अंपायर ने बल्लेबाज को आउट करार दिया। बेयरस्टो ने 38 रन बनाए।

कुलदीप का कमाल :

  • यह किसी भी बाएं हाथ के स्पिनर का वनडे क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।
  • यह किसी भी स्पिनर का इंग्लैंड में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।
  • यह किसी भी स्पिनर का इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।
  • यह वनडे क्रिकेट में भारत की तरफ से चौथा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

ऐसी विकट स्थिति में कप्तान इयोन मॉर्गन से बड़ी पारी की उम्मीद थी, लेकिन वे मात्र 19 रन बनाकर चहल की गेंद पर रैना को कैच थमा बैठे। इंग्लैंड एक समय 73 रनों पर बिना कोई विकेट खोए मजबूत स्कोर की तरफ बढ़ता दिख रहा था, लेकिन उसकी पारी लड़खड़ाई और 105 रनों पर 4 विकेट खोकर टीम संघर्षरत नजर आई। बटलर ने हार्दिक की गेंद पर 1 रन लेकर फिफ्टी पूरी की। यह उनकी लगातार तीसरी फिफ्टी है। वे 45 गेंदों में इस मंजिल तक पहुंचे। कुलदीप की लेग स्टंप के बाहर निकलती गेंद को खेलने के चक्कर में बटलर ने विकेटकीपर धोनी को कैच थमा दिया। वे 5 चौकों की मदद से 53 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने स्टोक्स के साथ पांचवें विकेट के लिए 93 रनों की भागीदारी कर पारी को संभाला।

कुलदीप ने इसके बाद बेन स्टोक्स के रूप में पांचवां विकेट हासिल किया। स्टोक्स 50 रन बनाकर उनकी गेंद पर कौल को कैच थमा बैठे। उन्होंने इसके बाद डेविड विली को पैवेलियन लौटाते हुए अपना छठा विकेट लिया। उन्होंने इस मैच में 25 रनों पर 6 विकेट लिए। यह किसी भी बाएं हाथ के स्पिनर का अंतरराष्ट्रीय वनडे में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। कुलदीप ने 25 रनों पर 6 विकेट लिए। उमेश यादव ने 70 रनों पर 2 विकेट हासिल किए।

बाएं हाथ के स्पिनर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन : कुलदीप ने बाएं हाथ के स्पिनर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। इससे पहले यह रिकॉर्ड भारत के मुरली कार्तिक नाम था, जिन्होंने मुंबई में अक्टूबर 2007 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 27 रनों पर 6 विकेट लिए थे।

भारत के सिद्धार्थ कौल अंतरराष्ट्रीय वनडे डेब्यू किया। उन्होंने पिछले दिनों अंतरराष्ट्रीय टी20 डेब्यू किया था। भारत ने दिनेश कार्तिक को मौका नहीं दिया। पिछले टी20 मैच की टीम में एक बदलाव कर टीम में दीपक चाहर की जगह कुलदीप यादव की वापसी हुई। इस मैदान के हीरो एलेक्स हेल्स पूरी तरह फिट नहीं होने के कारण मैच से बाहर हुए। उनकी जगह बेन स्टोक्स की प्लेइंग इलेवन में वापसी हुई। हे्ल्स ने यहां पिछले दोनों वनडे में शतक लगाए थे। हेल्स का अभी स्कैन होना है जिसके चलते डेविड मालन को टीम में शामिल किया गया है।

ट्रेंट ब्रिज पर इंग्लैंड ने पिछले महीने विश्व रिकॉर्ड स्कोर (481) खड़ा किया था और उसके बल्लेबाज इसी प्रदर्शन को दोहराने के इरादे से मैदान में उतरेंगे। मेजबान गेंदबाजों के लिए भारत की मजबूत और विस्फोटक बल्लेबाजी पंक्ति मुसीबत खड़ी करने की कोशिश करेगी। दोनों टीमें तीन मैचों की इस सीरीज में पहला मैच जीतकर बढ़त बनाना चाहेगी, इसके मद्देनजर यह मुकाबला रोमांचक होने का अनुमान है।

भारत को इस मैच में प्रमुख गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की कमी खलेगी। । पीठ की चोट के कारण भुवी अंतिम टी20 मैच में नहीं खेल पाए थे। वे ऐच्छिक प्रैक्टिस के दिन मैदान पर तो पहुंचे लेकिन उन्होंने वार्मअप या नेट्‍स में हिस्सा नहीं लिया। सिद्धार्थ कौल उनकी जगह मैच में उमेश यादव का साथ देते नजर आएंगे। ।

टीमें – भारत : रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, महेंद्रसिंह धोनी, सुरेश रैना, हार्दिक पांड्‍या, सिद्धार्थ कौल, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, उमेश यादव।

इंग्लैंड : जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, इयोन मॉर्गन (कप्तान), बेन स्टोक्स, जोस बटलर, मोईन अली, डेविड विली, लियाम प्लंकेट, आदिल रशीद, मार्क वुड।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here