प्रख्यात चित्रकार पद्मभूषण रामकुमार का 94 वर्ष की उम्र में निधन

0
61

नयी दिल्ली : पद्मभूषण से सम्मानित प्रख्यात चित्रकार एवं प्रसिद्ध लेखक रामकुमार का आज सुबह यहां अपने निवास पर निधन हो गया। वह 94 वर्ष के थे। उनके परिवार में एक पुत्र है जो ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं। उनका अंतिम संस्कार यहां निगमबोध घाट पर ढाई बजे दिन में किया जाएगा।

हिमाचल प्रदेश की राजधनी शिमला में 1924 में जन्मे रामकुमार हिंदी के मशहूर लेखक निर्मल वर्मा के बड़े भाई थे। प्रसिद्ध कला समीक्षक एवं रामकुमार के मित्र प्रयाग शुक्ल ने यूनीवार्ता को बताया कि राम कुमार पिछले 20 दिन से राजधानी के पटपड़गंज इलाके में स्थित मैक्स अस्पताल में भर्ती थे। वह विश्व विख्यात चित्रकार एमएफ हुसैन, तैयब मेहता और सैयद हैदर रजा के आत्मीय मित्र थे।

Image result for प्रख्यात चित्रकार पद्म भूषण राम कुमार का निधन

उनके निधन से आधुनिक भारतीय चित्रकला का एक प्रमुख स्तंभ ढह गया। प्रसिद्ध संस्कृति कर्मी अशोक वाजपेयी, कला समीक्षक विनोद भारद्वाज, प्रसिद्ध लेखक गिरिधर राठी समेत कई लेखकों, चित्रकारों ने रामकुमार के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

सेंट स्टीफन कालेज से पढ़े रामकुमार ललित कला अकेडमी के फेलो भी थे। उनकी पेंटिंग हुसैन तैयब मेहता की तरह करोड़ो रुपये में बिकती थी। वह अपने अमूर्त चित्रों के लिए जाने जाते थे। उनकी अपनी अलग शैली थी। वह साठ के दशक के चर्चित कहानीकार भी थे। उनकी चित्रों की प्रदर्शनी दुनिया के कई देशों में लगी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here