रेप के आरोपों में दाती महाराज भी घेरे में, पीड़िता का आरोप कि आश्रम में होता था ये घिनौना काम

0
160

नई दिल्ली: रेप के आरोपों से घिरे बाबाओं की लिस्ट में राम रहीम और आसाराम के बाद दाती महाराज का नाम भी जुड़ गया है। दिल्ली के प्रशिद्ध शनि मंदिर श्री शनिधाम पीठाधीश्वर के नामी बाबा दाती महाराज पर एक महिला से दुष्कर्म करने का गंभीर आरोप लगा है। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने धारा 376 और 377 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपी की तलाश तेज कर दी है। गौरतलब है कि बाबा का असली नाम मदन है। इस घटना के बाद दिल्ली स्थित बाबा के आश्रम पर सन्नाटा छाया हुआ है। वहीं, बाबा फरार बताये जा रहे हैं।

दो साल पहले की घटना

मामला वर्ष 2016 का बताया जा रहा है, महिला के बारे में अभी कोई सूचना सामने नहीं आयी है। महिला के हवाले से बताया जा रहा है कि शनि धाम के अंदर दो साल पहले उसका यौन शोषण हुआ था, पर डर के कारण उसने शिकायत दर्ज नहीं कराई थी। महिला ने पिछले सप्ताह 6 जून (बुधवार) को थाना फतेहपुरबेरी में शिकायत दर्ज करायी है। शिकायत मिलने पर SHO ने बाबा से पूछताछ भी की पर बताया जा रहा है कि बाबा ने पूछताछ में बिलकुल भी सहयोग नहीं किया।

DCP के आदेश पर दर्ज किया गया मुकदमा

SHO ने इसके बाद डीसीपी को रिपोर्ट किया था, जिसके बाद डीसीपी के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया। वहीं, दिल्ली आश्रम में मौजूद सेवादार अर्जुन से पूछताछ भी किया गया। अर्जुन ने कहा कि बाबा कहां हैं? इस बारे में उसे कुछ भी पता नहीं। बताया जा रहा है कि बाबा का राजस्थान के पाली और दिल्ली के छतरपुर में आश्रम है, इसके अलावा दक्षिण दिल्ली के छतरपुर और राजस्‍थान के पाली में उनके पास विशाल फार्म हाउस हैं।

पीड़िता ने किया चौकाने वाला खुलासा

दाती महाराज पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता सामने आई और चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसका कहना है कि दाती महाराज के दुष्कर्म की शिकार पीड़िता ने जब सारी बात उसने आश्रम में ही रहने वाली वरिष्ठ शिष्या को बताई तो उसने कहा कि सभी ऐसा करते हैं, उसे भी बाबा का कहना मानना पड़ेगा। यहां तक कई बार महिला ने युवती को बाबा के पास छोड़ा।

बाबा के डर से शिकायत न कर सकी: पीड़िता

पीड़िता का आरोप है कि बाबा ने राजस्थान के आश्रम में भी उसके साथ दुष्कर्म किया। परेशान होकर पीड़िता ने आश्रम छोड़कर घर जाने का फैसला किया। लेकिन बाबा के डर से वह शिकायत करने की हिम्मत नहीं जुटा पाई। किसी तरह हिम्मत जुटाकर बुधवार को पीड़िता दिल्ली स्थित फतेहपुर थाने पहुंची।

पीड़िता ने बाबा, उनके चेलों और महिला के खिलाफ की शिकायत

पीड़िता ने यहां उसने बाबा व उसके चेलों व महिला के खिलाफ शिकायत दी। शिकायत मिलने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने छानबीन शुरू की। जांच के बाद मामला दर्ज कर लिया गया। पुलिस सूत्रों की मानें तो बाबा से जब मामले में पूछताछ करने का प्रयास किया तो उन्होंने इसमें सहयोग नहीं किया। फिलहाल बाबा राजस्थान में मौजूद हैं। अब दक्षिण जिले के डीआईयू पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को दिया नोटिस

देश में मशहूर बाबा दाती महाराज (श्री शनि धाम पीठाधीश्वर) पर अपनी साध्वी से दुष्कर्म करने के आरोप मामले में दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को नोटिस दिया है। फतेहपुर बेरी थानाध्यक्ष को जारी नोटिस में आयोग ने इस मामले में 15 जून तक जवाब देने को कहा है। साथ ही मामले की गंभीरता को देखते हुए पीड़िता को सुरक्षा प्रदान करने की मांग की है।

आश्रम में दरिंदगी

दिल्ली महिला आयोग अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के अनुसार, आयोग को पीड़िता से शिकायत प्राप्त हुई। जिसमें उसने आरोप लगाया कि उसके साथ दाती महाराज व अन्य लोगों ने महरौली स्थित फतेहपुर बेरी के श्री शनि तीर्थ क्षेत्र आश्रम में दुष्कर्म किया था। पीड़िता ने यह भी आरोप लगाया कि राजस्थान पाली स्थित गुरुकुल आश्रम, बाल ग्राम, सोजत में भी बार-बार दुष्कर्म किया गया था।

महिला पुजारी ने की मदद

एक महिला पुजारी ने आरोपी की इस गंभीर अपराध में मदद की। शिकायत में पता चला कि यह काफी गंभीर मामला है और इसमें तुरंत जांच की आवश्यकता है। आयोग की अध्यक्ष के मुताबिक इस संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। लेकिन पीड़िता को इसके अनुरोध के बावजूद प्राथमिकी और चिकित्सा रिपोर्ट की एक प्रति प्रदान नहीं की गई।

महिला आयोग अध्यक्ष ने पीड़िता से की मुलाकात

स्वाति ने कहा कि पीड़िता के साथ-साथ उनके परिवार के जीवन को भी खतरा है। खासकर पुलिस स्टेशन से आने-जाने में। ऐसे में उन्होंने पुलिस से पीड़िता को तत्काल सुरक्षा प्रदान करने का अनुरोध किया है। दिल्ली महिला आयोग अध्यक्ष ने रेप पीड़िता से मुलाकात की। पीड़िता से मिलने के बाद उन्होंने कहा कि उसके साथ जो हुआ वह काफी भयावह है। ऐसा लगता है कि पीड़िता काफी यातनाओं से गुजर चुकी है। उसे अपनी जान का भी खतरा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here