भगवान शिव के धाम के कपाट शीतकाल के लिये बंद

0
19

केदारनाथ: उत्तराखंड में गढ़वाल के उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित विश्वप्रसिद्ध बाबा केदारनाथ धाम के कपाट शुक्रवार के शीतकाल के लिये बंद कर दिये गये।

भगवान शिव के 11 वें ज्योतिर्लिंग श्री केदारनाथ मंदिर के कपाट विधिवत पूजा अर्चना के बाद सुबह 8:30 पर शीतकाल के लिए बंद कर दिये गये। अब अगले छह महीनों तक श्रद्धालु बाबा के दर्शन उनके शीतकालीन प्रवास स्थल उखीमठ में स्थित ओंकारेश्वर मंदिर में कर सकेंगे।

कपाट बंद होने की प्रक्रिया सुबह चार बजे से केदारनाथ मंदिर के गर्भ गृह में भगवान की विशेष पूजा के साथ शुरू हुई। पूजा मंदिर के मुख्य पुजारी टी. गंगाधर लिंग ने अपने सहयोगियों के साथ संपन्न किया।

कपाट बंद होने के मौके पर परम्परागत वाद्ययंत्रों और सेना के बैंड की मधुर धुनों और बाबा केदार के जयकारों से केदार पुरी का वातावरण भक्तिमय बना हुआ था।

उत्सव यात्रा के साथ बड़ी संख्या में श्रद्धालु पैदल निकले। भगवान केदारनाथ के कपाट बंद होने के बाद उत्सव यात्रा के दौरान गुप्तकाशी में एकदिवसीय मेला भी आयोजित हो रहा है।

श्री केदारनाथ बद्रीनाथ मंदिर समिति के जनसंपर्क अधिकारी हरीश गौड़ ने बताया कि सुहावने मौसम के बीच उत्सव यात्रा उखीमठ के लिए रवाना हो गई जो विभिन्न पड़ावों से गुजरती हुई तीन दिन बाद गंतव्य तक पहुंचेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here