यह भी एक शिक्षकः पानी में तैरकर स्कूल पढ़ाने जाती हैं विनोदिनी

0
75

भुवनेश्वर. वह ढेंकानाल जिले के एक गांव की किसान परिवार की शादीशुदा महिला है। नाम है विनोदिनी सामल। वह ढेंकानाल ओड़पड़ा प्राथमिक स्कूल में शिक्षक हैं। पिछले दो दिन से भारी बारिश व हीराकुद जलभंडार से पानी छोड़े जाने की वजह से कई नदियों में पानी आ जाने के साथ कई केनाल के जलस्तर उफान पर है। उसी तरह का केनाल है सापुआ केनाल। इस में पानी भर गया है। केनाल को पार करने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। लेकिन स्कूल खोलना है, बच्चों को मध्याह्न भोजन देना है। इसलिए विनोदिनी गले तक पानी में घुसकर स्कूल जाते हैं। लेकिन स्कूल बन्द नहीं करते हैं। यह चित्र सोशल मीडिया में वाइरल होने के बाद विनोदिनी के लिए हजारों शुभेच्छा आने लगे हैं। पूछने से पता चला है विनोदिनी पिछले 10 साल से छुट्टी दिनों के अलावा एक बार भी काम के दिन छुट्टी नहीं ली है। यह वीडियो वाइरल होने के बाद खुद केन्द्र पैट्रोलियम व इस्पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने ट्वीट करके विनोदिनी को शुभेच्छा भेजा है। प्रधान ने कहा है कि यही कर्तव्यपरायणता है।