असम में बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आए अक्षय कुमार, दान में दी इतनी रकम

0
187

मॉनसूनी बारिश के बाद आई बाढ़ ने असम में हाहाकार मचाया हुआ है। बाढ़ के कारण हालात इस हद तक भयावह हो चुके हैं कि असम के 33 जिलों में 45 लाख से ज्यादा लोगों की जान पर बन आई है। वहीं, काजीरंगा नेशनल पार्क का करीब 95 फीसदी हिस्सा भी बाढ़ में डूब चुका है। आधिकारिक आंकड़े के मुताबिक बाढ़ में अभी तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है। काजीरंगा नेशनल पार्क में पानी भरने से 17 जानवरों की जान जा चुकी है, जबकि बड़ी संख्या में जानवर अपनी जान बचाने के लिए सुरक्षित जगह की तलाश में इधर-उधर भाग रहे हैं। ऐसे भयानक हालातों में असम के बाढ़ पीड़ितों के लिए मदद के हाथ बढ़ने शुरू हो गए हैं। बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने भी असम बाढ़ पीड़ितों के लिए डोनेशन दिया है।

डोनेशन के बाद लोगों से भी की अपील

अभिनेता अक्षय कुमार ने असम बाढ़ के लिए 2 करोड़ रुपए दान दिए हैं। इनमें से एक करोड़ रुपए असम के मुख्यमंत्री राहत कोष में और एक करोड़ रुपए काजीरंगा नेशनल पार्क में राहत एवं बचाव कार्य के लिए भेजे गए हैं। आपको बता दें कि हाल ही जारी हुई फोर्ब्स की सूची के मुताबिक अक्षय कुमार दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली हस्तियों में शामिल हैं। असम बाढ़ पीड़ितों के लिए दी गई डोनेशन की जानकारी अभय कुमार ने खुद अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर की है। अक्षय ने लोगों से भी अपील की है कि वो इस मुश्किल घड़ी में असम के लोगों की मदद के लिए आगे आएं। गौरतलब है कि अक्षय कुमार इससे पहले भी कई बार इस तरह की प्राकृतिक आपदाओं में मदद के लिए हाथ बढ़ा चुके हैं। हाल ही में उन्होंने इसी साल मई के महीने में ओडिशा में आए चक्रवाती तूफान के बाद मुख्यमंत्री राहत कोष में एक करोड़ रुपए भेजे थे।

हिमा दास ने दान की आधी सैलरी

वहीं, दूसरी तरफ दुनिया भर में तिरंगे का मान बढ़ाने वाली देश की स्टार एथलीट हिमा दास ने असम बाढ़ पीड़ितों के लिए अपनी आधी सैलरी दान कर दी है। हिमा ने मुख्यमंत्री राहत कोष में जो दान दिया है, वो इंडियन ऑयन कॉर्पोरेशन से मिले उनके वेतन का हिस्‍सा है। आपको बता दें कि हिमा इंडियन ऑयन कॉर्पोरेशन में एचआर ऑफिसर के पद पर हैं। उन्होंने ट्वीट करके कॉरपोरेट घरानों से अपील करते हुए कहा कि असम में हालात काफी खराब हैं और राज्य के कई जिले इससे प्रभावित हैं। कई गांव पानी में डूब चुके हैं और स्थिति लगातार बिगड़ रही है। हिमा ने कहा कि वे दान दें और उनके प्रदेश को बचाने के लिए आगे आएं।

4157 गांवों के 45 लाख लोग प्रभावित

आपको बता दें कि मॉनसून पहुंचने के बाद बारिश ने असम में काफी कहर मचाया है। असम डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (ASDMA) की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में बाढ़ से 4157 गांवों के करीब 45 लाख लोग प्रभावित हैं। इसके अलावा राज्य की 153211 हेक्टेयर कृषि भूमि बाढ़ के पानी में डूब चुकी है। बाढ़ के खराब हालात को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से फोन पर बात कर राज्य में बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया और स्थिति से निटपने के लिए केंद्र से राज्य को हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया।