पद जाने के बाद कुमार विश्वास ने किया ये ट्वीट, PAC पर लगाएं गंभीर आरोप

0
35

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी की नीतियों पर लगातार सवाल उठाने वाले कुमार विश्वास को पार्टी ने राजस्थान प्रभारी पद से हटा दिया है। उनके स्थान पर दीपक वाजपेयी को नया प्रभारी नियुक्त किया गया है। पार्टी ने प्रेस कांफ्रेंस में इस बात की जानकारी दी।

विश्वास को नहीं थी फैसले की जानकारी 

विश्वास खेमे’ ने सवालिया निशान लगाते हुए इसे एकपक्षीय निर्णय बताया है। विश्वास खेमे ने इस बाबत हुई आप की राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) की बैठक में कुमार को नहीं बुलाए जाने का आरोप लगाया।

विश्वास के एक करीबी आप नेता ने बताया ‘‘पीएसी के सदस्य होने के बावजूद उन्हें न तो बैठक की जानकारी दी गई न पदमुक्त किए जाने के बारे में सूचित किया गया।’’ उन्होंने पार्टी संविधान के हवाले से कहा कि पीएसी की बैठक के लिए इसके सभी सदस्यों की मौजूदगी अनिवार्य है। ऐसे में विश्वास की गैरमौजूदगी में किया गया फैसला एकपक्षीय है।

पार्टी नेता आशुतोष ने दिया ये बयान 

पार्टी नेता आशुतोष ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि, ‘कुमार विश्वास को हटाने का फैसला पार्टी की पॉलिटिकिल अफेयर कमेटी की मीटिंग में लिया गया। पार्टी नेताओं ने पाया कि अपनी व्यस्तता के कारण कुमार विश्वास राजस्थान में पार्टी के लिए समय नहीं निकाल पा रहे।

जिस पर उनके स्थान पर पार्टी के कोषाध्यक्ष दीपक वाजपेयी को राजस्थान की कमान सौंपने का फैसला लिया गया बताया जा रहा है कि दीपक वाजपेयी लंबे समय से राजस्थान में सक्रिय हैं। इस नाते पार्टी नेतृत्व ने उन्हें पार्टी की बागडौर सौंपी है।’

http://

‘राजनीतिक रणनीति के तहत नहीं दिया प्रभार’

पद से हटाए जाने के बाद कुमार विश्वास के दफ्तर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि इस तरह से हटाए जाने का साफ़-साफ़ मतलब है कि पार्टी ने कुमार विश्वास को राजस्थान प्रभार किसी राजनीतिक रणनीति के तहत नहीं दिया था, बल्कि उस समय अमानतुल्लाह प्रकरण पर षड्यंत्र के पर्दाफाश और कार्यकर्ताओं की नाराज़गी के डर से बचने के लिए मजबूरन यह फैसला लिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here