पठानकोट एयरबेस पर एयरफोर्स में आज शामिल किए जाएंगे 8 अपाचे हेलिकॉप्टर

0
48

भारतीय वायुसेना अब और भी मजबूत होने जा रही है. दुनिया के सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमानों में से एक अपाचे हेलिकॉप्टर आज भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होगा. वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ आज पंजाब के पठानकोट एयरबेस पर 8 अपाचे हेलिकॉप्टर को शामिल कराएंगे. ये वही पठानकोट एयरबेस है जहां पर 2016 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने हमला किया था.

आपको बता दें कि 60 फुट ऊंचे और 50 फुट चौड़े अपाचे हेलिकॉप्टर को उड़ाने के लिए 2 पायलट होने जरूरी हैं. अपाचे हेलिकॉप्टर के बड़े विंग को चलाने के लिए 2 इंजन होते हैं, इस वजह से इसकी रफ्तार बहुत ज्यादा है.

2 सीटर इस हेलिकॉप्टर में हेलिफायर और स्ट्रिंगर मिसाइलें लगी हुई हैं. इसमें एक सेंसर भी लगा है, जिसकी वजह से ये हेलिकॉप्टर रात में भी ऑपरेशन को अंजाम दे सकता है. 365 KM. घंटे की रफ्तार से उड़ान भरने वाले इस हेलिकॉप्टर में 30 ML. की दो गन लगी हुई हैं.

आपको बता दें कि इस हेलिकॉप्टर की अधिकतम स्पीड 280 किलोमीटर प्रति घंटा है. अपाचे हेलिकॉप्टर का डिजाइन ऐसा है कि इसे रडार पर पकड़ना मुश्किल होता है.

गौरतलब है कि अमेरिका निर्मित ये अपाचे हेलिकॉप्टर AH-64E दुनिया का सबसे एडवांस मल्टी रोल कॉम्बेट हेलिकॉप्टर है. भारत और अमेरिका के बीच सितंबर, 2015 में एक बड़ी डील हुई थी, जिसके तहत 22 हेलिकॉप्टर भारत को मिलने वाले हैं. इससे पहले 27 जुलाई को 4 हेलिकॉप्टर मिल चुके हैं, अब आठ हेलिकॉप्टर मंगलवार को मिल रहे हैं.

भारत को इस वक्त दो तरफ से मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, एक तरफ पाकिस्तान लगातार कश्मीर को लेकर भारत को धमकी दे रहा है तो दूसरी ओर उसका चीन भी साथ दे रहा है. अब भारत इन्हीं मोर्चों के लिए हर तरह से तैयार हो रहा है, ताकि समय आने पर दुश्मन के दांत खट्टे कर सकें.