नवरात्र में भारत के 5 प्राचीन देवी मंदिर

0
42

स्पेशल डेस्क: कल यानि 10 अक्टूबर से नवरात्रे शुरू होने वाले हैं। हिंदु धर्म में चैत्र नवरात्र का बहुत महत्‍व है और भारत में नवरात्रे का त्यौहार बड़ी ही धूम-धाम से मनाया जाता है। नौ दिन तक मनाए जाने वाले इस त्यौहार में बहुत से भक्त देश में मौजूद अलग-अलग मंदिरों में घूमने के लिए जानते हैं। आज हम आपको 5 देवियों के सबसे प्रसिद्ध के बारे में बताने जा रहे हैं, जो न केवल धार्मिक महत्‍व रखते हैं बल्कि आपके लिए एक अच्‍छी ट्रैवल डेस्‍टीनेशन भी साबित हो सकते हैं।

1. बीकानेर, करणी माता मंदिर
राजस्थान के बीकानेर शहर में मौजूद करणी माता का मंदिर दुनियाभर में मशहूर है। इस मंदिर को चूहे वाला मंदिर के नाम से भी जाना जाता है इसलिए यहां हर तरफ चूहे ही दिखाई देते हैं। देश-विदेश से लोग इस मंदिर में माता के दर्शन करने के लिए आते हैं।

2. जम्‍मू, वैष्णो देवी मंदिर
जम्‍मू को वैष्‍णो देवी के मंदिर की यात्रा भी देश-विदेश में फेमस है। पहाड़ों के ऊपर स्थित यह मंदिर धार्मिक के साथ-साथ बेहतरीन ट्रैवल डेस्टीनेशन भी है। नवरात्र में तो यहां की भीड़ का नजारा ही कुछ ओर होता है।

3. कोलकाता, दक्षिणेश्‍वर माता का मंदिर
कोलकाता का काली मंदिर 51 शक्तिपीठों में से एक माना जाता है। कहा जाता है कि यहां माता सती के दाएं पैर की चार उंगलियां गिरी थी और इस मंदिर में आज भी मां काली निवास करती हैं।

4. जगदलपुर, दंतेश्‍वरी माता का मंदिर
देवी सती की 51 शक्तिपीठ में से एक जगदलपुर का दंतेश्‍वरी माता का मंदिर भी है। इस स्थान पर माता सती के दांत गिरे थे। नवरात्र ते समय तो यहां देश-विदेश से टूरिस्ट आते हैं। इस मंदिर की खासियत है कि यह पूरा मंदिर लकड़ी से बना हुआ है, जो देखने में बेहद अद्भुत लगता है। 136 साल पुराना यह मंदिर आज भी वैसा ही लगता है।

5. गुवाहाटी, कामाख्‍या देवी मंदिर
प्राकृतिक खूबसूरती के साथ-साथ गुवाहाटी अपने इस मंदिर के लिए भी फेमस है। कहा जाता है कि जब भगवान विष्‍णु ने देवी शक्ति के शव को चक्र से काटा था तब यहां उनकी योनी कट कर गिर गई थी तब से यहां एक योनी के रूप में बने कुंड की पूजा होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here